बिना टिकट यात्रा रोकने के लिए बनी रोडवेज की अतिरिक्त जांच टीम
प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। त्यौहारों पर रोडवेज की बसों में डब्ल्यूटी यानि बिना टिकट लोग सबसे अधिक सफर करते हैं। इसे देखते हुए रोडवेज ने रात में भी बसों को चेक करने के लिए अलग से रूट वार टीम का गठन किया है। त्यौहारों पर हर रूट पर यात्रियों की संख्या काफी अधिक होती है। यही कारण है कि बसों में सफर करने वालों की काफी भीड़ होती है। ऐसे में काफी लोग होते हैं जो बिना पैसा दिए ही बस में सफर कर लेते हैं। इसके अलावा काफी ऐसे कंडेक्टर भी होते हैं जो पैसेंजर्स से टिकट का पैसा तो ले लेते हैं, मगर उन्हें टिकट नहीं देकर पूरा पैसा अपनी जेब में रख लेते हैं। ऐसा रात के समय में कई रोडवेज की बसों में होने की आशंका होती है। काफी ऐसे रूट हैं जो छोटे हैं, उनपर दिन में भी ऐसा ही खेल चलता है। इसी को देखते हुए अब रोडवेज अपनी जांच टीम को नाइट में भी एक्टिव करेगा। अभी तक यह टीम हाई-वे पर ही तैनात होती थी। मुख्यालय स्तर पर रोडवेज टीम की तैनाती करने की तैयारी में है। कई अन्य छोटे रूट ऐेसे भी हैं जिन पर दिन में यात्रियों का दबाव अधिक रहता है, वहां भी कंडेक्टर की चेकिंग के लिए अतिरिक्त टीम जांच को लगाई जाएगी।