युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। १३ साल बाद शहर के प्रतिष्ठित बैंक्वेट हॉल में पुलिस टीम का सम्मान समारोह व्यापारियों द्वारा किया गया। १३ साल से पुलिस का कोई सम्मान समारोह व्यापारियों द्वारा नहीं किया जा रहा था। लंबे समय बाद हुए इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में जहां व्यापारियों ने शिरकत की वहीं सिपाही से लेकर पुलिस कप्तान तक का नागरिक अभिनंदन किया गया। इस कार्यक्रम से एक बार फिर ये संकेत दिया गया है कि योगी सरकार में अपराधों में काफी कमी आई है और गाजियाबाद पुलिस की नई टीम ने जिस तरह से अपराधियों के खिलाफ शिकंजा कसा है निसंदेह आने वाले समय में इसका असर दिखाई देगा।
सम्मान समारोह को संबोधित करते एसएसपी मुनिराज जी, एसपी सिटी निपुण अग्रवाल, युग करवट के एडिटर इन चीफ सलामत मियां, लोहा विक्रेता मंडल के अध्यक्ष अतुल जैन, उत्तर प्रदेश व उद्योग व्यापार मंडल के मेरठ मंडल अध्यक्ष अनिल सांवरिया, करंट क्राइम के संपादक मनोज गुप्ता, युवा व्यापारी गौरव गर्ग।
एसएसपी मुनिराज की टीम के द्वारा पिछले दिनों एक लाख के इनामी बदमाश बिल्लू दुजाना व पचास हजार के इनामी बदमाश राकेश दुजाना को एन्काउंटर में ढेर किया गया था। भारतीय उद्योग व्यपार मंडल के तत्वाधान में व्यापारियों के कई संगठनों ने जीटी रोड स्थित होटल वेस्ट व्यू में एक सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में एसएसपी मुनिराज, एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल, एसपी क्राइम दीक्षा शर्मा, सीओ फस्र्ट स्वतंत्रदेव सिंह, सीओ इंदिरापुरम अभय कुमार मिश्रा, कोतवाल अमित कुमार खारी, एसएचओ इंदिरापुरम मनीष बिष्टï, एसओ मधुबन बापूधाम मुनेश सिंह, पीआरओ प्रशांत कुमार दीक्षित, स्वॉट टीम प्रभारी अब्दुल रहमान सिद्दीकी, इंस्पेक्टर अजय कुमार, एसआई योगेंद्र सिंह, सत्यवीर सिंह, अरूण वर्मा, ब्रजेश कुमार, मोहित कुमार अरूण मिश्रा, विजय कुमार और रविंद्र सहित ४४ पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया। सम्मान समरोह के दौरान सभी अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को प्रतीक चिन्ह व पटके भेंट किये गये। साथ ही कप्तान मुनिराज, एसपी सिटी निपुण अग्रवाल और एसपी क्राइम दीक्षा शर्मा को प्रतीक चिन्ह और शील्ड के अलावा कटी वस्त्रों से विभूषित किया। इसके अलावा सम्मान समारोह के दौरान दैनिक युग करवट के प्रधान संपादक सलामत मियां, करंट क्राइम के संपादक मनोज गुप्ता और एकता ज्योति के संपादक राज कुमार राणा सहित कई और समाजसेवियों को सम्मानित किया गया।
सम्मान समारोह के दौरान भारतीय उद्योग व्यपार मण्डल के मेरठ मण्डल प्रभारी नानकचंद गोयल, मेरठ मण्डल अध्यक्ष अनिल सांवरिया, अनुज मित्तल (उपाध्यक्ष), रजनीश बंसल (वरीष्ठ महामंत्री), देवेंद्र हितकारी (जिला चेयरमैन), गौर गर्ग (जिला प्रभारी), अतुल जैन (प्रदेश उपाध्यक्ष), सीमा गोयल (जिलाध्यक्ष), प्रोफेसर डॉ. सपना बंसल, संदीप सिंघल, राजकिशोर गुप्ता, सुरेश महाजन, केपी गुप्ता, महेश अग्रवाल, राय लक्ष्मी जैन और रश्मि गुप्ता आदि ने अपने उद्बोधन में एसएसपी मुनिराज जी की कार्यशौली और अपराध पर नियंत्रण करने की निरंतर चेष्ठा के अलावा व्यापारियों व आमजनों साथ उत्तम सामंजस्य बनाने की पृवत्ति की सराहना की। इस मौके पर व्यापारियों ने पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली की सराहना करते हुए कहा कि दो कुख्यात बदमाशों के मारे जाने और सैंकड़ों बदमाशों को जेल भेजे जाने की वजह से न केवल अपराधों में आशातीत कमी आई है, बल्कि कई गिरोहों का खात्मा होने से उनके बदमाशों का आतंक भी समाप्त हुआ है। मंच का संचालन रजनीश बंसल ने किया।
सम्मान समारोह के दौरान अपने उदï्बोधन में कप्तान मुनिराज न केवल भाव विभोर हो गये, बल्कि अभिभूत कर देने वाले इन पलों में उन्होंने अपने मन की बात उजागर करते हुए कहा कि उनका गाजियाबाद से गहरा रिश्ता है। उन्होंने आगे कहा कि उन्हें यहां के निवासियों से गहरा लगाव है। उन्होंने कहा कि आमजनों की पीड़ा का अंत करने के लिये जहां वह रोज अपने कार्यालय में कई घंटे जनसुनवाई करते हैं, वहीं पीडि़त व्यक्ति के लिये उनके द्वार २४ घंटे खुले हैं। अगर किसी के साथ कोई अपराध घटित होता है और उसकी सुनवाई नहीं होती है तो उनके कैंप कार्यालय पर आकर किसी भी समय मिल सकता है। ऐसे व्यक्ति की समस्या दूर करने में उन्हें तनिक देर भी नहीं लगेगी। उन्होंने अपने अतीत को याद करते हुए कहा कि उनकी सर्विस की शुरूआत जहां गाजियाबाद की धरती से हुई, वहीं तीसरी पोस्टिंग उनकी कप्तान के रूप में हुई है। इससे पहले वह सीओ व एसपी सिटी के पद पर रहकर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि आमजन के सहयोग से वह जनपद को अपराधमुक्त करने की कवायद करेंगे। इस मौके पर कप्तान ने अपने मातहत अधिकारियों के द्वारा अपराध नियंत्रण करने और बदमाशों की नाक में नकेल कसने की मुहिम की जमकर सराहना करते हुए यहां तक कह दिया कि हालिया दिनों में अपराध रोकने की कवायद के तहत अधिकारियों से लेकर बीट आरक्षियों तक प्रतिस्पर्धा होती दिखाई दे रही है। जो अपराधमुक्त समाज बनाने में अच्छा शगुन है। सम्मान समारोह के दौरान एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने कहा कि गाजियाबाद में एसपी सिटी के पद पर तैनाती के दौरान जो एक बात उन्हें बहुत अच्छी लगी वह है, यहां के लोगों विशेषकर व्यपारी बंधुओं का सहयोगात्मक व सामंजस्यपूर्ण रवैया। श्री अग्रवाल ने कहा कि उनके कार्यकाल में अब तक कई ऐसी छोटी व बड़ी अपराधिक घटनाएं घटित हुई, व्यपारियों का पूरा सहयोग मिला जिसकी वजह से उन वारदातों का जल्द खुलासा भी हो गया।
दैनिक युग करवट के प्रधान संपादक सलामत मियां ने सम्मान समारोह के दौरान अपने संबोधन में कहा कि जब आमजन किसी पुलिस अधिकारी अथवा पुलिसकर्मी का सम्मान करता है तो ऐसे में अपराध रोकने और भयमुक्त समाज बनाने में पुलिस प्रशासन के अफसरों व पुलिसकर्मियों की जिम्मेदारी भी खुद ब खुद बढ़ जाती है। श्री मियां ने कहा कि जिस प्रकार का सम्मान आज व्यापारियों द्वारा पुलिस के अफसरों व जवानों का किया गया है, ऐसा सम्मान आज से लगभग १३-१४ साल पहले इसी बैंक्वेट हॉल में तत्कालीन एसएसपी रघुवीरलाल के जमाने में हुआ था। इस मौके पर श्री मियां ने एसएसपी मुनिराज, एसपी सिटी निपुण अग्रवाल, एसपी क्राइम दीक्षा शर्मा और अन्य अधिकारियों की कार्यशौली की प्रशंसा करते कहा कि आज के बाद गाजियाबाद को भयमुक्त और अपराधमुक्त जिला बनाने के लिए अधिकारियों की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ जाएगी। करंट क्राइम के संपादक मनोज गुप्ता, गौरव गर्ग, नानकचंद, अनिल सांवरिया, राजकिशोर, अतुल जैन, रजनीश बंसल आदि ने संबोधन किया। कार्यक्रम का सफल संचालन रजनीश बंसल ने किया।