युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। केंद्रीय राज्यमंत्री बीएल वर्मा ने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा कुल मत प्रतिशत का 60 प्रतिशत वोट हासिल कर दोबारा सरकार बनाएगी। 2017 में भाजपा को कुल 51 प्रतिशत वोट हासिल हुआ था। वह भी तब, जब सपा और बसपा मिलकर चुनाव लड़ी थी। इस बार दोनों दलों के बीच गठबंधन की संभावनाएं नहीं है, ऐसे में भाजपा के लिए कोई चुनौती नहीं है। भाजपा 60 और बाकी सभी दल 40 प्रतिशत वोटों में सिमट कर रह जाएंगे। जन आशीर्वाद यात्रा में गाजियाबाद पहुंचने पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए बीएल वर्मा ने कहा कि ओबीसी, एससी-एसटी, महिलाओं के कल्याण के लिए विपक्षी दल सिर्फ बातें ही करती हैं, जबकि मोदी सरकार कर के दिखाती है। सात जुलाई को मोदी मंत्रिमंडल में 27 ओबीसी और कई एससी-एसटी और महिलाओं को शामिल किया जाना, इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है। उन्होंने कहा कि सपा और बसपा ने प्रदेश के सामाजिक ताने बाने को नष्टï किया है। प्रदेश की भाजपा सरकार ने इस सामाजिक तानेबाने को फिर से कायम किया। लोग अब अमन के साथ विकास की ओर बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्वाभिमान को फिर से हासिल करने के लिए अगर जिलों का नाम परिवर्तन करना जरूरी हुआ तो सरकार ऐसा करेगी। उन्होंने कहा कि जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान उन्हें जनता का भारी समर्थन हासिल हो रहा है। हर समाज, हर वर्ग के लोग इस यात्रा में शामिल हो रहे हैं। युग करवट के एक सवाल के जवाब में केंद्रीय राज्य मंत्री बीएल वर्मा ने कहा कि मोदी सरकार ही ओबीसी वर्ग की सच्ची हितैषी है। मोदी सरकार ने ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिलाया। मेडिकल और नीट परीक्षाओं में ओबीसी आरक्षण लागू किया। अब कई ओबीसी जातियों को एसएसी-एसटी में शामिल करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। प्रेसवार्ता में जनरल वीके सिंह, गौतमबुद्घनगर के सांसद डॉ. महेश शर्मा, मेयर आशा शर्मा, राज्यसभा सांसद डॉ. अनिल अग्रवाल, विधायक सुनील शर्मा, पूर्व मेयर आशु वर्मा, दर्जाप्राप्त राज्यमंत्री बलदेवराज शर्मा, मुंशीलाल गौतम, अशोक मोंगा, मयंक गोयल, सरदार एसपी सिंह, महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा, पप्पू पहलवान, अमित गर्ग, राजेश त्यागी आदि उपस्थित थे। संचालन मीडिया प्रभारी अश्विनी शर्मा ने किया। जन आशीर्वाद यात्रा का जोरदार स्वागत- पृष्ठ आठ पर