लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने रविवार को जनसंख्या नियंत्रण नीति 2021-30 पेश कर दिया। राज्य विधि आयोग की ओर से तैयार किए गए इस विधेयक में दो से ज्यादा बच्चों वालों को सरकारी नौकरियों और योजनाओं से बाहर करने की की योजना है। हालांकि जनसंख्या नीति को लेकर विश्व हिंदू परिषद ने ही सवाल उठा दिए है। विहिप का कहना है कि इससे आबादी के अनुपात में असंतुलन पैदा होगा। विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा, हम जनसंख्या को लेकर कानून लाने के सरकार के कदम का स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि बिल के दूसरे हिस्से में केवल एक बच्चा पैदा करने वाले दंपती को ज्यादा लाभ देने का प्रावधान है। सरकार को इस पर दोबारा विचार करना चाहिए, क्योंकि इससे जनसंख्या में नकारात्मक वृद्धि को बढ़ावा देगा।