युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। इंदिरापुरम कॉलोनी में 239 करोड़ रुपये की लागत से प्रस्तावित रिसाइकल वॉटरट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाएगा। प्लांट बनाने के लिए निगम ने नैशनल टेंडर मांगे है। किसी कंपनी को अगर किसी तरह की आशंका दूर करनी हो तो वह 18 अक्टूबर तक निगम की वेबसाइट पर अपने सवाल डाल सकती है। इनका जवाब निगम देगा। इसके लिए कंपनी ने एक एडवाइजर कंपनी तैनात की है। इसी कंपनी ने इस प्लांट का डीपीआर सूरत की कंपनी ग्रीन इंजीनियरिंग वक्र्स से डीपीआर तैयार कराया है। नगर निगम ने एक नवंबर तक कंपनियों से टेंडर मांगे है। टेंडर खोलने की प्रक्रिया निगम प्रशासन तीन नवंबर को खोलेगा। यूपी का यह पहला रिसाइकल प्लांट है। इस प्लांट पर कार्य तकनीकी बेस पर हो, इसके लिए जलकल विभाग एक कंसलटेंट कंपनी की नियुक्ति भी करेगा। इस कंपनी के जरिए ही टेंडर की तकनीकी बिड़ फाइनल की जाएगी। जलकल विभाग के जीएम योगेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि टेंडर डालने के लिए कंपनियों को कई तरह की ओर जानकारी की जरुरत हो सकती है। ऐसे में जलकल विभाग ने नगर निगम की वेबसाइट पर अपने सवाल डालने के लिए टेंडर डालने की इच्छुक कंपनियों से निवेदन किया है। निगम 18 अक्टूबर तक कंपनियों के सवालों के जवाब देगा।