युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। बीस जनवरी से मतदान कराने के लिए लगने वाले कर्मियों की ट्रेनिंग आईटीएस मोहननगर में शुरू होगी। ट्रेनिंग का शेड्यूल तैयार हो गया है। इसमें चरणवार मतदान कर्मियों को ट्रेनिंग कराई जाएगी। इस बार सभी ट्रेनिंग आईटीएस मोहनगर में होगीं। जबकि इससे पूर्व इंग्राहम इंटर कॉलेज में ट्रेनिंग कराई जाती थी। पहली ट्रेनिंग २० से २३ जनवरी को होगी, जिसमें ८३८३ मतदान कर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया।
इस दौरान ईवीएम मशीन, वीवी पैट मशीन का प्रयोग करना, मतदान शुरू होने से लेकर मतदान समाप्त करने के बाद किस तरह से मशीन को लॉक किया जाए इन सबके बारे में बताया जाएगा। २४ जनवरी को ७२८ माइक्रो आब्र्जवर को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके उपरांत ट्रेनिंग का दूसरा चरण २८ से तीन फरवरी होगा। चार दिन चलने वाले इस प्रशिक्षण में १६७६५ मतदान कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। चार फरवरी को माइक्रो ऑब्र्जवर की दूसरे चरण की ट्रेनिंग होंगी, यह प्रशिक्षण शिफ्ट वार होगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए सोशल डिस्टेंस का पूरा पालन किया जाएगा। ट्रेनिंग की पहली शिफ्ट सुबह दस बजे से साढ़े बारह बजे, दूसरी शिफ्ट दोपहर दो बजे से शाम साढ़े चार बजे तक होगी। एक शिफ्ट में १६०० कर्मी शामिल होंगे। प्रशिक्षण मास्टर ट्रेनर द्वारा दिया जाएगा। मास्टर ट्रेनर का प्रशिक्षण पूर्व में ही हो चुका है। थ्योरी के लिए ८० मास्टर ट्रेनर, ईवीएम प्रशिक्षण के लिए ७५ मास्टर ट्रेनर होंगे। इसके अलावा २०० सेक्टर मजिस्ट्रेट, ५० रिजर्व सेक्टर मजिस्ट्रेट २६ जोनल मजिस्ट्रेट और आठ जोनल मजिस्ट्रेट भी शामिल होंगे। कर्मिक नोडल सीडीओ अस्मिता लाल के मुताबिक 20 जनवरी से सभी मतदान कर्मिकों का प्रशिक्षण शुरू हो जाएगा।