युग करवट संवाददाता
लखनऊ। कोरोना की दूसरी लहर के बाद प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने सोमवार को कैबिनेट बैठक बुलाई। लोकभवन में 18 माह बाद कैबिनेट बैठक आठ प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है। करीब 18 महीने बाद लोक भवन में कैबिनेट बैइक का आयोजन किया गया। इसस बैठक में आठ प्रस्ताव पेश किए गए। सभी में सरकार की मुहर लग गई। बैठक में सभी कैबिनेट मंत्रियों के साथ ही राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) तथा राज्य मंत्री भी शामिल थे।
लोक भवन में योगी आदित्यनाथ कैबिनेट की बैठक दिन में साढ़े बारह बजे शुरू हुई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही सभी मंत्री लम्बे समय के अंतराल के बाद लोक भवन पहुंचे। इस बैठक में सभी मंत्री आमने-सामने बैठे। कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रिमंडल के साथ सरकार के काम काज और भविष्य की रणनीतियों पर मंथन किया। मुख्यमंत्री ने कैबिनेट बैठक में नीतिगत निर्णयों के बाद केंद्रीय नेतृत्व में सुझाव व निर्देशों को सरकार के स्तर पर अमल के लिए जरूरी दिशा निर्देश दिया। कैबिनेट बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रियों के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष और क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष के होने वाले चुनावों को लेकर वार्ता भी की। सरकार जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनावों की घोषणा जल्द करने वाली है। बैठक में सभी मंत्रियों को अपने प्रभार वाले जिले व अपने विधानसभा क्षेत्र वाले जिलों का दौरा करने को कहा गया। मंत्रियों से विभागों के अधूरी विकास परियोजनाओं को समय से पूरा कराने, क्षेत्र की समस्याओं का समाधान कराने पर भी निर्देश दिए गए।