गाजियाबाद। शहर में विकास को गति देने के लिए एक और बड़ा काम सामने आया है। निगम प्रशासन ने 14 वें वित्त आयोग के बचे करीब 25 करोड़ रुपये के टेंडर लॉन्च किए है। दरअसल 14-वें वित्त आयोग का पैसा निगम को पिछले वर्ष आवंटित किया गया था। तब ही विकास कार्य कराने के लिए टेंडर की प्रक्रिया पूरी करनी थी। उस समय काफी ऐसे कार्य के टेंडर थे जो अत्याधिक बिलो आ गए थे। बाद में इन सभी विकास कार्यों को पूरा करने से ठेकेदारों ने इनकार कर दिया। सभी विकास कार्यों की जो रकम जोड़ी गई वह करीब 25 करोड़ रुपये होती है। मेयर आशा शर्मा ने बताया कि अब नगर निगम ने फिर से इन विकास कार्यों का ठेका छोड़ा है। जल्दी ही इन विकास कार्यों को पूरा किया जाएगा।