टाटा स्टील के सीनियर अफसर विनय त्यागी के मर्डर का होगा चौकाने वाला खुलासा
प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। शुक्रवार की रात शालीमार गार्डन थाना क्षेत्र की राजेंद्रनगर कॉलोनी में रहने वाले टाटा स्टील कंपनी के सीनियर अफसर विनय त्यागी की हत्या धारदार हथियार से गोदकर कर दी गई थी। यूं तो पुलिस अभी तक इस सनसनीखेज हत्याकांड़ की गुत्थी को सुलझा नहीं पाई है लेकिन पुलिस का कहना है कि विनय त्यागी के मर्डर का चौकाने वाला खुलासा जल्द हो सकता है। पुलिस के एक अधिकारी का कहना है कि अभी तक जांच में जो बात सामने निकलकर आ रही है उससे तो यही लग रहा है कि विनय त्यागी के मर्डर के पीछे लूट ना होकर कुछ और है। अधिकारी ने बताया कि जांच के दौरान जो सबसे बड़ी पहेली पुलिस के सामने आ रही है वह यह है कि श्री त्यागी शुक्रवार की रात ८ बजकर २७ मिनट से लेकर ११ बजकर २१ मिनट तक कहां-कहां और किसके साथ रहे। इसके अलावा वो जहां घर जाने के लिये रोज राजेंद्रनगर मेट्रो स्टेशन पर उतरते थे पर उस दिन वह राजबाग मेट्रो स्टेशन पर उतरे और वहां से पैदल चलकर उन्होंने मॉडल शॉप से शराब की बोतलें भी ली। उसके बाद श्री त्यागी पैदल ही चलते हुए दिखाई दिये। कुछ दूर जाने के बाद वो दिखाई नहीं दिये। उसके बाद उनका शव शालीमार गार्डन थाना क्षेत्र में एक स्कूल के पास पड़ा मिला। शव के पास उनका बैग, लैपटॉप और मोबाइल के अलावा अन्य सामान भी नहीं मिला। अधिकारी के अनुसार जांच में यह भी पाया गया कि हत्यारे/लुटेरों ने उनकी मोबाइल की लोकेशन व डेटा भी इरेज कर दिया। इस संदर्भ में डीसीपी ट्रांस हिंडऩ निमिष दशरथ पाटिल का कहना है कि इस मर्डर की गुत्थी सुलझाने के लिये जहां स्वॉट व उनकी टीम के सहित पुलिस की लगभग दर्जन भर टीम दिन रात लगी हुई हैं वहीं पुलिस अब तक दौ सौ से अधिक कैमरों की फुटेज भी खंगाल चुकी है। इसके अलावा पुलिस श्री त्यागी के द्वारा हटाये गये कंपनी के पदाधिकारियों, कई सस्पैक्टï्स, पेशेवर हत्यारों और लूटपाट करने वाले गैंग के बदमाशों को आईडेंटीफाई करके उनसे भी से पूछताछ करने की रणनीति पर चल रही है। श्री पाटिल ने बताया कि इस मर्डर के खुलासे के लिये पुलिस हर एंगिल पर जांच कर रही है। उधर मृतक विनय त्यागी की हत्या के बाद से उसके परिजनों में मातम छाया हुआ था।
उनके पिता व बच्चों से लेकर हर कोई यह कह रहा था कि विनय त्यागी ने किसका क्या बिगाड़ा था कि जो उनकी नृशंस हत्या कर दी गई।