गाजियाबाद (युग करवट)। साहिबाबाद थाना क्षेत्र के अंतर्गत न्यू करहैड़ा कॉलोनी में रहने वाले रामजी नामक मिस्त्री की पांच वर्षीय बच्ची हनी की हत्या की गुत्थी पुलिस की पूरी फौज वारदात के चार दिन बाद भी नहीं सुलझा पाई है। हां, पुलिस ने गत सप्ताह हुए उक्त सनसनीखेज वारदात के मामले में एक दर्जन से अधिक संदिग्धों को हिरासत में लेकर जहां उनसे गहन पूछताछ की है, वहीं अभी पुलिस की कई टीम व आला अधिकारी कस्टडी में मौजूद कुछ संदिग्धों से पूछताछ करके बच्ची की मर्डर मिस्ट्री को खोलने की कोशिश करते हुए दिखाई दे रहे हैं। एडीसीपी ज्ञानेंद्र सिंह का कहना है कि पुलिस के हाथ कुछ ऐसे अहïम सुराग लगे हैं जिनकी बिन्हा पर कहा जा सकता है कि इस वारदात का खुलासा होने में अब अधिक समय नहीं लगेगा। उधर, घटनास्थल के आस-पास हो रही चर्चा और सूत्रों के हवाले से निकलकर आ रही खबर में यह बात भी सामने आ रही है कि अबोध बच्ची की हत्या के पीछे कोई ऐसा भी हो सकता है कि जिसके होने पर खून के अटूत रिश्ते एक बार फिर से कलंकित एवं तार-तार हो सकते हैं। बता दें कि इस सनसनीखेज प्रकरण की अपडेट खुद पुलिस उपायुक्त अजय कुमार मिश्रा अपने अधिनस्थों से पल-पल ले रहे हैं।