युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। एक तरफ कप्तान जहां बदमाशों के खिलाफ मुहिम चलवाकर अपराध पर अंकुश लगाने का प्रयास करते दिखाई दे रहे हैं वहीं पुलिस की निष्क्रियता एसएसपी की मुहिम को पलिता लगा रही है। पुलिस की उदासीनता का लाभ उठाकर बदमाश ऐसा कोई दिन नहीं जा रहा जब जनपद में लूट, हत्या, झपटमारी व चोरी जैसी संगीन अपराधिक घटनाओं को अंजाम ना दे रहे हों। आये दिन होने वाली संगीन वारदातों की श्रंृखला में एक कड़ी और उस समय जुड़ गई जब बेखौफ बदमाशों ने विभिन्न थाना क्षेत्रों में लूट की आधा दर्जन, झपटमारी की चार और चोरी की पांच वारदातों को अंजाम देकर पुलिस को खुली चुनौती दे डाली। उधर जिन थाना क्षेत्रों में लूट, झपटमारी व चोरी जैसी वारदातें हुईं, उन थानों के एसएचओ या तो वारदातों को छुपाते दिखाई दिए या फिर संगीन अपराधिक मामलों को मामूली घटनाओं के घटित होने की बात अपने आला अफसरों को बताते हुए दिखाई दिए। बता दें कि बाइक पर सवार दो हथियारबंद बदमाशों ने लोनी थाना क्षेत्र की राम विहार कॉलोनी में मनी ट्रांसफर का व्यवसाय करने वाले विकास के ऑफिस पर धावा बोलकर उनसे लूटपाट की। पुलिस को दी गई तहरीर में विकास ने बताया है कि बदमाश गन प्वाइंट पर २५ हजार कैश व अन्य कीमती सामान लूटकर ले गये। इसके अलावा बदमाशों ने मोदीनगर थाना क्षेत्र के गांव पलौता में रहने वाले सत्यपाल सिंह के मकान की खिड़की उखाड़कर लूटपाट की। सूत्रों का कहना है कि वाहन चालक सत्यपाल सिंह की पत्नी व पुत्री को गन प्वाइंट पर लेकर लुटेरों ने घर में रखे ३५ हजार रुपए और कीमती सामान लूट लिया। इसके अलावा नन्दग्राम थाना क्षेत्र की राजनगर एक्सटेंशन कॉलोनी में सरेराह एक महिला को गन प्वाइंट पर लेकर उसके गले में पड़ी लाखों की चेन लूट ली। इसके अलावा बदमाशों ने ट्रोनिका सिटी, मधुबन-बापूधाम, कविनगर, साहिबाबाद और इंदिरापुरम थाना क्षेत्र में भी लूट, झपटमारी और चोरी की वारदातों को अंजाम देकर अपने बुलंद हौंसलों का परिचय दे दिया। दूसरी तरफ साहिबाबाद थाना क्षेत्र की लाजपतनगर कॉलोनी में रहने वाले एक परिवार ने कुछ दबंगों पर पुलिस के सामने मारपीट कर लूटपाट करने के आरोप भी लगाये।