नगर संवाददाता
गाजियाबाद। मंकीपॉक्स के खतरे के बीच जिले में महज दो दिन में ही कोरोना संक्रमण के १६० मरीज चिन्हित हुए हैं। इतना ही नहीं तीन महीने बाद एक-साथ कोरोना संक्रमण के १०१ मरीज सामने आने से स्वास्थ्य विभाग में हडक़ंप मचा हुआ है।
अगस्त माह में अब तक २६७ मरीज संक्रमित हो चुके हैं, जिसमें १६० मरीज महज दो दिन में चिन्हित हुए हैं। यानि, एक बार फिर जिले में कोरोना पैर पसारता दिख रहा है। संक्रमण की चपेट में अभी भी सबसे अधिक २१ से ६० वर्ष तक के लोग चपेट में आ रहे हैं। बीते २४ घंटे में जिले में संक्रमण के ५९ मरीज रिपोर्ट हुए हैं, जिसमें 0 से १२ वर्ष तक के ३ मरीज, १३ से २० वर्ष तक के ५ मरीज, २१ से ४० वर्ष तक के २५ मरीज, ४१ से ६० वर्ष तक के १९ मरीज और ६० वर्ष से ऊपर के सात मरीज चिन्हित हुए हैं। साथ ही ३५ मरीज संक्रमण से ठीक भी हुए हैं। वर्तमान में एक्टिव मरीजों की संख्या ३३१ है, जिसमें ३१ मरीज विभिन्न कोविड अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं। कोविड अस्पतालों में भी धीरे-धीरे मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है।
चार अगस्त को जारी हुई रिपोर्ट में भी सबसे अधिक ७७ मरीज २१ से ६० आयु वर्ग के थे। ऐसे में इस वर्ग के लोगों पर सबसे अधिक संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। डीएसओ डॉ. आरके गुप्ता के मुताबिक इस आयु वर्ग के लोग सबसे अधिक बाहर आवागमन करते हैं। कामकाजी होने के कारण अधिक लोगों के संपर्क में आते हैं, जिसकी वजह से ये लोग संक्रमित हो रहे हैं। हालांकि, अभी तक मरीजों में संक्रमण गंभीर स्थिति में नहीं पहुंचा है, लेकिन सावधानी बरतना जरूरी है।