हापुड़ (युग करवट)। गढ़ कोतवाली क्षेत्र में डायल ११२ पर तैनात एक होमगार्ड से डï्यूटी देने व बिना काटे वेतन प्रदान करने के लिये दो बीओ प्लाटून कमांडर ने रिश्वत के रूप में ५० हजार की रंगदारी मांगी। अपनी रोजी रोटी बचाने के लिये पीडि़त होमगार्ड ने पेटीएम के जरिए १० हजार की रकम बतौर रिश्वत आरोपित अधिकारियों को दे भी दिये। लेकिन, उसके बाद जब दोनों आरोपितों ने उससे रिश्वत की शेष रकम यानि ४० हजार और देने का दवाब बनाया तो उसने दोनों की शिकायत जनपद स्तर पर पुलिस प्रशासन के अधिकारियों से की। बकौल होमगार्ड जब यहां पर उसकी फरियाद नहीं सुनी गई तो उसने न्याय पाने के लिये मुख्यमंत्री का दरवाजा खटखटाया। उसने सीमए को पत्र लिखकर न्याय दिलवाने और आरोपित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की गुहार लगाई है।