नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी द्वारा द्वितीय वार्षिक हाफ मैराथन का आयोजन किया गया, जिसमें धावकों ने दौडक़र हार्ट को हेल्दी रखने का संदेश दिया। इस हाफ मैराथन में २३०० से अधिक लोगों ने भाग लिया। हाफ मैराथन को मुख्य अतिथि शहरी मामलों एवं पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, सडक़, परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग केंद्रीय राज्यमंत्री एवं स्थानीय सांसद जनरल वीके सिंह, राज्यसभा सांसद डॉ. अनिल अग्रवाल, डीएम आरके सिंह, एसएसपी मुनिराज, यशोदा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल कौशांबी के एमडी डॉ. पीएन अरोड़ा, डायरेक्टर उपासना अरोड़ा और एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर शुभांग अरोड़ा ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। केन्द्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह ने कहा कि यशोदा द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम का उद्देश्य है कि लोग वॉक एवं रन के लिए प्रेरित हों जिससे कि वे अपने ह्रदय को स्वस्थ रख सकें और हार्ट की पम्पिंग को दुरुस्त कर सकें। डॉ. पीएन अरोरा ने कहा कि केवल गाजियाबाद ही नहीं, बल्कि पूरे उत्तर प्रदेश में बड़े लेवल की 21 किलोमीटर की हाफ मैराथन दूसरी बार आयोजित की गई है। इसमें उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात एवं महाराष्ट्र से भी धावक आये हैं।
दिल्ली पैरालम्पिक एसोसिएशन की अध्यक्षा डॉ. उपासना अरोरा ने कहा कि इस दौड़ में विभिन्न प्रकार कि विकलांगता से ग्रस्त बच्चों ने भी हिस्सा लिया और उनमें से कुछ बच्चों ने अंतररष्ट्रीय पदक भी जीते हैं। २१ किलोमीटर की हाफ मैराथन में दस किलोमीटर, पांच किलोमीटर दौड़ और पांच किलोमीटर वॉकाथान का आयोजन किया गया। यह मैराथन यशोदा अस्पताल से शुरू होकर हिंडन एलिवेटेड रोड और फिर अस्पताल पहुंचकर समाप्त हुई। मैराथन में कौशांबी रनर्स क्लब, एक्सप्रेस वे रनर्स, क्रॉसिंग रनर्स क्लब, इंदिरापुरम रनर्स क्लब के धावकों ने भी प्रतिभाग किया।