प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। आईजीआरएस पॉर्टल पर आने वाली शिकायतों का निस्तारण समय से नहीं करने पर नगर आयुक्त ने नगर निगम के हेल्थ अफसर सहित कई अधिकारियों से स्पष्टïीकरण मांगा है। इन अधिकारियों में नगर निगम के हेल्थ अफसर डॉ. मिथलेश कुमार, संपत्ति अधीक्षक भोलानाथ गौतम, पथ प्रकाश प्रभारी योगेन्द्र यादव, जलकल विभाग के जीएम आनंद त्रिपाठी शामिल हैं। मामला आईजीआरएस पोर्टल पर आने वाली शिकायतों से संबंधित है। इस पोर्टल पर जो भी शिकायतें आती हैं उपका निस्तारण समयबद्घ तरीके से किया जाता है। समय पर निस्तारण नहीं होने के कारण यह सभी शिकायतें सीधे शासन के पास तक पहुंच जाती है। अगर इसके बाद भी इन शिकायतों का निस्तारण नहीं होता है तो वह रेड मार्क हो जाती हैं और इसको किसी भी विभाग के रैंक के खिलाफ माना जाता है। आरोप है कि नगर निगम के हेल्थ विभाग, संपत्ति विभाग तथा जलकल और प्रकाश विभाग की शिकायतों का निस्तारण समय पर नहीं हो पाने के कारण आईजीआरएस पॉर्टल पर शिकायतों का निस्तारण नहीं हो पाने को नगर आयुक्त डॉ. नितिन गौड़ ने गंभीरता से लिया है। इन सभी अधिकारियों से इस मामले में स्पष्टïीकरण देने के लिए कहा गया है। इसके अलावा निर्देश दिए गए हैं कि वे तय समयसीमा के अंदर आईजीआरएस पोर्टल पर लंबित प्रकरण का निस्तारण कर रिपोर्ट दें।