नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। हाईकोर्ट के निर्देश के बाद, जिला निवार्चन अधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक जिला सभागार में आयोजित की गई। बैठक के बाद निर्णय लिया गया है कि हाइकोर्ट के निर्देश के बाद सिर्फ चिन्हित लोगों के ही असलहे जमा कराएं जाएंगे। इसके अलावा अन्य किसी को शस्त्र जमा कराने में छूट रहेगी। समिति कें निर्णय लिया गया है कि जिन असलहा धारकों की आपराधिक मुकदमें दर्ज होंगे, या जमानत पर जेल से बाहर होंगे उनके शस्त्र जमा कराएं जाएंगे। इसके अलावा चुनाव के दौरान गडबडी करने वालों, शांति भंग करने वालों के भी शस्त्र जमा कराएं जाएंगे। समिति ठोस वजह पर भी शस्त्र जमा करा सकेगी। अन्य किसी के शस्त्र जमा नहीं कराएंगे। स्क्रीनिंग कमेटी द्वारा पूर्व में सभी के शस्त्र जमा कराए जाने के निर्देश दिए थे, अब यह निर्देश सिर्फ चिन्हित लोगों पर ही लागू होंगे। बता दें कि हाईकोर्ट ने एक याचिका पर सुनवाई के दौरान यह आदेश दिया था कि जिन नागरिकों के साथ शस्त्र लाइसेंस हैं और चुनाव के दौरान उसे जमा कराएं जाने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता है। ऐसे में सिर्फ आपराधिक छवि वाले लोगों के शस्त्र जमा कराएं जाएं अन्य किसी लाइसेंस धारी का शस्त्र जमा नहीं कराया जाएगा। आज स्क्रीनिंग कमेटी ने भी इस सम्बंध में निर्देश जारी किए हैं। बैठक में डीसीपी नगर जोन कुंवर ज्ञानंजय सिंह, डीसीपी शुभम पटेल, डीसीपी निमेष दशरथ पाटिल, एडीएम प्रशासन रणविजय सिंह, एडीएम सिटी गंभीर सिंह, एसडीएम सदर अरुण दीक्षित आदि मौजूद रहे।