गिरफ्तारी के समय 8 लाख 15 हजार, लाइसेंसी पिस्टल और फॉर्च्यूनर कार हुई थी बरामद
नोएडा (युग करवट)। एक यवती के साथ सामूहिक बलात्कार के आरोप में पकड़े गए स्क्रैप माफिया रवि काना के दाहिने हाथ राजकुमार नागर,उसके साथी विकास तथा आजाद के पास से पुलिस ने एक फॉच्र्यूनर कार, लाइसेंसी पिस्टल तथा 8 लाख 15 हजार रुपए नगद बरामद किया है। पुलिस ने आयकर विभाग को भारी मात्रा में बरामद नकदी की जानकारी दी है। आयकर विभाग इस मामले में जांच कर रही है। पुलिस सूत्र बताते हैं कि सामूहिक बलात्कार के आरोप में पकड़ा गया राजकुमार नागर पुत्र बलराज कुख्यात स्क्रैप माफिया रवि का दाहिना हाथ था। रवि पर्दे के पीछे से काम करता था, जबकि राजकुमार नागर पूरे प्रदेश में स्क्रैप माफिया के रूप में चर्चित था। इस गैंग की सदस्य काजल झा स्क्रैप माफिया की काफी विश्वासपात्र है। वह गैंग मे दूसरे नंबर पर जानी जाती है। बिना काजल की अनुमति के स्क्रैप का कोई भी कारोबार नहीं होता था। रवि काना उसे पर सबसे ज्यादा विश्वास करता है। बताया जाता है कि काजल को लेकर रवि की पत्नी मधु कई बार आपत्ति दर्ज करा चुकी है, लेकिन पुरानी दोस्ती का हवाला देकर रवि काजल का साथ नहीं छोड़ता था। काजल पूरे कारोबार को अपने मु_ी में रखती थी।