नोएडा (युग करवट)। पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के मामले में फरार चल रहे कुख्यात स्क्रैप माफिया रवि काना गैंग के 11 सदस्यों के खिलाफ न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर दी है। इस गैंग के 14 लोगों की पुलिस अब तक गिरफ्तारी कर चुकी है। रवि काना और उसकी महिला मित्र काजल झा सहित पांच लोगों के खिलाफ अभी जांच जारी है। रवि और काजल अभी फरार हैं। उनके घर की पुलिस ने कुछ दिन पूर्व कुर्की की है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने लुक आउट नोटिस जारी किया है। चर्चा है कि दोनों विदेश भाग गए हैं।
थाना बीटा-2 के प्रभारी निरीक्षक मुनेंद्र कुमार सिंह ने 1 जनवरी वर्ष 2024 को रवि नागर उफऱ् रविंद्र सिंह उर्फ रवि काना, राजकुमार नागर, तरुण छोकर, अमन, विशाल, अवध उर्फ बिहारी उर्फ अमर सिंह, महकी नागर, अनिल, विक्की, अफसार, राशिद अली ,आजाद नागर, प्रहलाद, विकास नागर, कुमारी काजल झा, और मधु नागर के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया था। घटना की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही पुलिस ने अब तक कार्रवाई करते हुए इस गैंग के 14 लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि इस गैंग का सरगना रवि नागर और उसकी महिला मित्र काजल झा अभी भी फरार हैं। इस मामले की जांच थाना नॉलेज पार्क पुलिस द्वारा की जा रही है। पुलिस ने इस मामले में रवि काना गैंग के 11 लोगों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दायर की है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार रवि काना और उसकी महिला मित्र काजल झां की गिरफ्तारी के प्रयास किया जा रहे हैं। उनके घर की कुर्की पुलिस द्वारा कुछ समय पूर्व की गई है।
सामूहिक दुष्कर्म के मामले में रवि काना समेत पांच के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल
कुख्यात स्क्रैप माफिया रवि काना, उसके चचेरे भाई राजकुमार नागर, महकी नागर सहित पांच लोगों के खिलाफ थाना सेक्टर-39 में दर्ज दलित किशोरी के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले में पुलिस ने न्यायालय में चार्जशीट दाखिल कर दी है। इस घटना में शामिल चार बदमाश पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जा चुके हैं, जबकि रवि काना अभी भी फरार है। उसकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है। सहायक पुलिस आयुक्त अरविंद कुमार ने बताया कि इस मामले में न्यायालय में चार्जशीट दायर कर दी गई है।