नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। अब इसे स्कूलों की हठधर्मिता कहें या कुछ और। क्योंकि, इस बार खुद प्रशासिनक अधिकारियों को आरटीई के तहत दाखिला कराने के लिए फील्ड में उतरना पड़ा। जी हां, अधिकारी खुद आवंटित स्कूलों में पहुंचकर बच्चों का दाखिला करा रहे हैं। पिछले पांच महीने से स्कूल आंवटित होने के बाद भी छात्रों को शिक्षा के अधिकार नियम के तहत दाखिला नहीं मिल पा रहा है, जिससे अभिभावकों में रोष बढ़ता जा रहा है। आंवटित छात्रों के दाखिले हो सकें, इसके लिए डीएम आरके सिंह ने अधिकारियों की एक टीम गठित की थी। इसका असर भी अब दिखने लगा है। सिटी मजिस्ट्रेट गंभीर सिंह ने नेहरू नगर स्थित एसडी ग्लोबल स्कूल पहुंचकर आवंटित छात्रों के दाखिले कराए। इसी क्रम में सिटी मजिस्ट्रेट भी दाखिला कराने पहुंचे और उन्होंने कई छात्रों का स्कूल में एडमिशन कराया। सिटी मजिस्ट्रेट ने बताया कि शिक्षा के अधिकार नियम के तहत जिन छात्रों को स्कूल आंवटित हो रहे हैं, उनका अनिवार्य रूप से दाखिला कराया जाएगा। अगर स्कूलों को कोई समस्या है तो उसका निस्तारण किया जाएगा, लेकिन किसी भी सूरत में छात्रों को शिक्षा के अधिकार से वंचित नहीं रहने दिया जाएगा। अन्य अधिकारी भी फील्ड में एडमिशन कराने में जुटे हुए हैं।