स्वास्थ्य मंत्री ने दिए संकेत, रात और वीकेंड कफ्र्यू रह सकता है जारी
युग करवट संवाददाता
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में सोमवार 31 मई सुबह सात बजे लॉकडाउन की मियाद खत्म हो रही है। ऐसे में सभी के जेहन में सिर्फ एक सवाल कि क्या लॉकडाउन को आगे भी बढ़ाया जाएगा। सरकार ने संकेत दिए हैं कि प्रदेश में कोविड-19 के मामलों में सुधार को देखते हुए लॉकडाउन में और भी राहत देने का फैसला लिया जा सकता है। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप सिंह ने कोरोना कफ्र्यू में ढील की ओर साफ इशारा किया है। बताते चलें कि अभी 31 मई तक के लिए प्रदेश में कोरोना कफ्र्यू लागू है।
प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा, कि उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामलों की संख्या काफी कम हो चुकी है। इसलिए आंशिक कोरोना कफ्र्यू में कुछ ढील हो सकती है। 31 मई के बाद सरकार चरणबद्ध तरीके से कुछ पाबंदियां हटा सकती है।
एक जून से बाजार आदि खोलने तथा सरकारी व निजी दफ्तरों को भी सीमित संख्या में कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ खोलने का आदेश जारी किया जा सकता है। इस पर फैसला शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में टीम-9 की बैठक में लिया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक सरकार दिन में तो कुछ ढील दे सकती है, लेकिन रात और साप्ताहिक कफ्र्यू जारी रखा जा सकता है। सरकार को आशंका है कि एकाएक पूरी तरह कोरोना कफ्र्यू समाप्त कर देने से संक्रमितों की संख्या में फिर इजाफा हो सकता है। सरकार चाहती है कि संक्रमितों की संख्या 1000 से नीचे आ जाए तभी पाबंदियों को हटाया जाए। यही वजह है चरणबद्ध तरीके से छूट देकर स्थितियों का आकलन किया जाएगा। बीते 24 घंटों के दौरान राज्य में करीब 2200 नए मामले सामने आए हैं। यह आंकड़ा तब है जबकि 3.30 लाख कोविड टेस्ट किए गए हैं। वहीं प्रदेश में कोरोना से रिकवरी रेट अब 96.1 प्रतिशत तक पहुंच गया है।