नोएडा (युग करवट)। थाना फेस-2 क्षेत्र के होजरी कंपलेक्स के पास गटर की सफाई करने के लिए गटर के अंदर उतरे दो सफाईकर्मियों की जहरीली गैस की चपेट में आने से मौत हो गई है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी पंकज कुमार ने बताया कि होजरी कॉम्प्लेक्स मे स्थित कंपनी के सामने सोमवार की शाम को सीवर की सफाई हो रही थी। उन्होंने बताया कि सोनू कुमार पुत्र राज कुमार उम्र 30 वर्ष नामक सफाईकर्मी सफाई करने के लिए गटर मैं उतरा वह सीवर लाइन में बन रही जहरीली गैस की चपेट में आ गया तथा मूर्छित होकर गटर में गिर गया। उसको बचाने के लिए श्याम बाबू उम्र 32 वर्ष गटर में उतरा। वह भी जहरीली गैस की चपेट में आ गया। उनके साथ खड़े तीसरे सफाई कर्मी ने दोनों को काफी मुश्किल के बाद गटर से बाहर निकाला तथा कुलेसरा स्थित एक अस्पताल में भर्ती करवाया। उन्होंने बताया कि वहां पर एक सफाई कर्मी की मौत हो गई, दूसरे सफाई कर्मी को उपचार के लिए नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती करवाया गया। उसकी उपचार के दौरान नोएडा के कैलाश अस्पताल में आज सुबह मौत हो गई। मीडिया प्रभारी ने बताया कि पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। गटर की सफाई करते समय हुई दो सफाई कर्मियों की मौत ने नोएडा प्राधिकरण की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों ने पूर्व में दावा किया था कि गटर की सफाई के लिए कीमती मशीनें लगाई गई है। नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों ने दावा किया था कि अब कोई भी सफाई कर्मी गटर साफ करने के लिए नहीं गटर मे उतरेगा। कल हुई इस घटना ने नोएडा प्राधिकरण की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा दिया है।