युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी का १५ नवंबर को जिले में श्रम विभाग द्वारा आयोजित सामूहिक विवाह आयोजन में शिरकत करने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। इसकी तैयारियों में जिला प्रशासन कई दिनों से जुटा हुआ है। लेकिन अभी तक प्रशासन को मुख्यमंत्री का अधिकारिक कार्यक्रम नहीं मिला है जिसके चलते सीएम के आने को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। हालांकि, अधिकारी सीएम योगी के ना आने की पुष्टिï नहीं कर रहे हैं। अधिकारी सीएम कार्यालय से लिखित कार्यक्रम आने का इंतजार कर रहे हैं।
१५ नवंबर को श्रम विभाग द्वारा सामूहिक विवाह कार्यक्रम प्रस्तावित है। इस दौरान गाजियाबाद, बुलंदशहर और हापुड़ जिले के करीब दो हजार जोड़ों का सामूहिक विवाह कराया जाएगा। इसके अलावा कार्यक्रम में करीब १२६ करोड़ रुपये की लागत की परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण भी मुख्यमंत्री द्वारा करना प्रस्तावित है। कार्यक्रम कमला नेहरू नगर के मैदान पर होगा जिसके चलते दो दिन से मैदान की सफाई से लेकर टैंट लगाने का काम किया जा रहा है। सामूहिक विवाह के साथ ही मुख्यमंत्री योजनाओं का शिलान्यास भी करेंगे। ऐसे में शादी के लिए अलग स्थान चिन्हित कर टैंट लगाए जा रहे हैं। इस दौरान विभिन्न धर्मों से जुड़े जोड़े शादी के बंधन में बधेंगे।
कार्यक्रम की समीक्षा बैठक शुक्रवार को डीएम आरके सिंह ने की है। इस आयोजन का नोडल अधिकारी सीडीओ अस्मिता लाल को बनाया गया है। तो वहीं दो सौ अधिकारियों को १४-१४ श्रमिकों के परिवारों से संपर्क करने की जिम्मेदारी दी है ताकि किसी प्रकार की कोई अव्यवस्था ना फैले। दोपहर करीब १२ बजे सीएम योगी के आने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। हर धर्म के अनुसार अलग-अलग पंडाल बनाए गए हैं ताकि किसी भी धर्म के वैवाहिक कार्य में कोई दिक्कत ना आए। कमला नेहरू नगर मैदान में बड़ी संख्या में श्रमिकों को मैदान की सफाई में लगाया गया है तो वहीं जेसीबी से मैदान को समतल कराकर वहां कालीन बिछाए जाएंगे। कार्यक्रम की नोडल अधिकारी सीडीओ अस्मिता लाल ने बताया कि अभी तक सीएम योगी का अधिकारिक रूप से कार्यक्रम नहीं मिल सका है।
आज दोपहर बाद सभी योजनाओं का कार्यक्रम सीएम कार्यालय भेजा जाएगा जिसके बाद अधिकारिक कार्यक्रम सीएम का जारी होगा। कार्यक्रम को लेकर संबंधित विभाग से लेकर कार्यक्रम स्थल पर पूरी तैयारियां की जा रही हैं।
इन योजनाओं का होगा शिलान्यास
पंडित दीन दयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम सिटीजन क्लब, ४७१८ लाख, रमते राम रोड पर शॉपिंग कॉम्पलेक्स का निर्माण कार्य, २६६३ लाख वार्ड-२४ में आरसीसी नाला निर्माण कार्य, २३२.२६ लाख, वार्ड-१६ में नाला व इंटरलॉकिंग टाइल्स निर्माण कार्य, ३२१.६७ लाख, वार्ड-७४ में वैंडिंग जोन का निर्माण १८ लाख, हिंडन विहार में गार्बेज फैक्ट्री का निर्माण ९३८ लाख, वार्ड-७३ में इंटरलॉकिंग टाइल्स निर्माण ७११.९७ लाख, मेरठ रोड से आर्यनगर चौराहा, कालका गढ़ी से चौधरी मोड़ तक के रोड को डस्ट फ्री करने के लिए साइड पटरी पर ग्रास पेवर लगाने, २४७.९१ लाख, वंसुधरा जोन में ग्रास पेवर लगाने, १४१.३० लाख की योजना सहित गाजियाबाद नगर निगम की करीब १२६ योजनाओं का शिलान्यास प्रस्तावित है। इन सभी निर्माण कार्यों पर २४७३८.०६ लाख रुपए की लागत की योजना है। इसके अलावा श्रम विभाग की योजनाएं हैं जिनका शिलान्यास व लोकार्पण मुख्यमंत्री द्वारा किया जाना प्रस्तावित है।