प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। विजयनगर थाना क्षेत्र में हुई एक सनसनीखेज अपराधिक घटना के दौरान जीआरपी बड़ौत में तैनात सुमित सिंह पुत्र भ्ंावर सिंह निवासी स्याना बुलंदशहर की हत्या कर दी गई। सिपाही का शव डीपीएस स्कूल पर पड़ा होने की सूचना के बाद एसएचओ थाना विजयनगर योगेंद्र सिंह मलिक के अलावा अन्य अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंच गये। उसके बाद पुलिस ने घटनास्थल के आस-पास की फोरेंसिक जांच करवाकर सिपाही सुमित सिंह (३५) के शव को पोस्टमार्टम के लिये भिजवाकर उसकी मौत की गुत्थी सुलझाने के प्रयास शुरू कर दिये। जीआरपी पुलिस के जवान सुमित सिंह की मौत किन परिस्थितियों में हुई, क्या उसकी हत्या हुई और अगर हत्या हुई तो किसने और क्यों की जब इन सवालों का जवाब जानने के लिये एसएचओ योगेंद्र सिंह मलिक से पूछा गया तो उनका कहना था कि इन सवालों का जवाब तो पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के आने और जांच पूरी हो जाने पर ही मिल पायेगा। प्राथमिक जांच में जो बात सामने आ रही है उससे तो यही लग रहा है कि उसकी मौत की वजह नशा भी हो सकती है। वैसे पुलिस सुमित की मौत की गुत्थी सुलझाने के लिये कई ऐंगल पर जांच कर रही है। उधर स्थानीय लोगों में हो रही चर्चा में यह बात भी सामने आ रही थी कि आरक्षी की मौत के पीछे कोई महिला भी हो सकती है।