नई दिल्ली। सिद्घू की हत्या के बाद कई गिरोह में प्रतिद्वंदिता बढ़ गई है। हर एक गिरोह सिद्घू की हत्या का बदला लेने की घोषणा कर रहा है। हरियाणा के एक गैंगस्टर भूपि राणा ने सिद्घू की हत्या के बारे में कोई भी सूचना देने पर पांच लाख का इनाम देने की घोषणा की है। भूपि राणा फिलहाल करणाल की जेल में बंद है। उसके फेसबुक पेज पर यह सूचना दी गई है। दिल्ली के नीरज बवाना गैंग ने भी हत्या का बदला लेने की बात कही। पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने भी पहली बार चुप्पी तोड़ी है। दिल्ली पुलिस की पूछताछ में लॉरेंस बिश्नोई ने कबूल किया कि हां हमारे गैंग मेंबर ने मूसेवाला को मरवाया है। इसके साथ ही लॉरेंस बिश्नोई ने कहा कि कॉलेज के वक्त से विक्की मिददुखेड़ा मेरा बड़ा भाई था, हमारे ग्रुप ने उसकी मौत का बदला लिया है।
तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने कहा कि ये काम इस बार मेरा नहीं है, क्योंकि मैं जेल में लगातार बंद था और फोन का इस्तेमाल नहीं कर रहा था, लेकिन मैं कबूल करता हूं कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या में हमारे गैंग का हाथ है। लॉरेंस ने यह कबूल किया कि पंजाब का एक मशहूर सिंगर भी उसका भाई है, लेकिन सुरक्षा कारणों से उजागर नहीं कर रहे हैं। बिश्नोई के इस कबूलनामे से साफ हो गया कि कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ के अलावा उसके गैंग को जेल के बाहर से ऑपरेट करने वाला सचिन बिश्नोई भी सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल था।
मनसा में पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के क़त्ल को 5 दिन हो गए। क़त्ल में पंजाब से लेकर दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश यहां तक कि कनाडा तक का कनेक्शन सामने आ गया। क़त्ल से पहले सिद्धू के घर के बाहर रेकी करते हुए और फिर क़त्ल के बाद भागती गाडिय़ों की सीसीटीवी तस्वीरें भी मिल गईं।
यहां तक कि क़त्ल के बाद भागने के लिए लुटेरों ने जो ऑल्टो कार लूटी थी, पुलिस ने वो भी बरामद कर ली। उधर, छंटे हुए गैंगस्टरों ने क़त्ल में अपना हाथ होने की बात भी सोशल मीडिया पर ख़ुद ही कबूल कर ली, लेकिन इतने सारे सुराग होने के बावजूद पुलिस के हाथ अब तक शूटर्स तक नहीं पहुंचे।