प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। मधुबन-बापूधाम कॉलोनी के लिए गांव हरसांव से होकर जा रही सडक़ के पास पानी के निस्तारण को लेकर एक बार फिर से जीडीए ने नगर निगम को पत्र लिखा है। पत्र इस बार इंजीनियरिंग विभाग की ओर से लिखा गया है। इससे पहले इसी तरह का एक पत्र जीडीए सचिव बृजेश कुमार की ओर से लिखा गया था। पत्र में नगर निगम से कहा है कि आसपास बन चुकी कॉलोनी के पानी का निस्तारण के लिए अलग से नाला बनाया जाए। यह नाला बालाजी विहार आदि आसपास की की कॉलोनियों से लेकर सीधे गांव हरसांव तक बनाए जिससे नाले से पानी का निस्तारण हो सके। दरअसल इन कॉलोनियों का पानी यहां पास ही में बने सिटीपार्क में भरता है जिस कारण यहां घूमने आने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। आसपास करीब आधा दर्जन कॉलोनियों है जिनका पानी का डिसचार्ज नहीं होता है। इस कारण पानी आसपास के एरिया में तरीके से फैल रहा है। इन कॉलोनियों के पास ही काफी खेत भी स्थित हैं जिनमें पानी भर रहा है। नगर निगम का कहना है कि यह कॉलोनी अवैध है। इन कॉलोनियों को विकसित होने से रोकने के लिए जीडीए की जिम्मेदारी थी। ऐसे में वहां पानी के निस्तारण करने के लिए नगर निगम पर दबाव बनाना गलत है।