गाजियाबाद। नए मास्टर प्लान का ड्रॉफ्ट जल्दी ही तैयार होने जा रहा है। यह ड्राफ्ट गाजियाबाद, लोनी, मोदीनगर और मुरादनगर मास्टर प्लान का होगा। यूपी के नगर नियोजन विभाग ने जीडीए से कहा है कि मास्टर प्लान 2031 के ड्राफ्ट की तकनीकी आधार पर ओडिटिंग होगी। अभी इसकी ऑडिटिंग शासन के नगर नियोजन विभाग लखनऊ में चल रही है। माना जा रहा है कि एक महीने में यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। इसके बाद ड्राफ्ट कंसलटेंट कंपनी जांच करेगी। तब जीडीए और शासन के नियोजन विभाग की टीम को इसे ऑडिटिंग करने के लिए कहा जाएगा। जीडीए के मास्टर प्लान विभाग का दावा है कि चार से पांच महीनों के अंदर नए मास्टर प्लान के फाइनल होने की संभावना है।