गाजियाबाद (युग करवट)। सावन के चौथे सोमवार को शिवभक्तों ने श्रीदूधेश्वरनाथ मंदिर में जलाभिषेक किया। तडके सुबह से ही भक्तों की लाइन मंदिर में लगना शुरू हो गई थी जो जस्सीपुरा मोड तक पहुंच गई थी। रात तीन बजे भगवान भोले का पंचामृत से स्नान कराकर अभिषेक किया गया व विशेष श्रंगार आरती के उपरांत मंदिर के कपाट भक्तों के लिए खोले गए। गर्मी और धूप के बाद भी भक्त जोश और उत्साह से बोल बम का जयघोष करते रहे। भक्तों की भीड को देखते हुए मंदिर प्रशासन और पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था के कडे इंतजाम किए थे। मंदिर के महंत नारायण गिरी महाराज ने कहा कि सावन माह में भगवान भोले की पूजा करने से कई जन्मों का फल मिलता है।