युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। विधान परिषद के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के लिए नौ जून आखिरी तारीख है लेकिन भाजपा की ओर से अभीतक नामों की सूची नहीं जा रही की गई है। माना जा रहा है कि आज शाम या कल सुबह तक नामों की सूची जारी कर दी जाएगी। 13 एमएलसी सीटों के लिए अगर जरूरत पड़ी तो 20 जून को मतदान कराया जा जाएगा। संख्या के हिसाब से इन 13 सीटों में से भाजपा को नौ सीटें मिलनी तय है।
वहीं सूत्रों के अनुसार, भाजपा की ओर से नौ सीटों में से सात सीटों पर मंत्रियों के नाम तय हैं। बाकी बची दो सीटों पर नाम तय करने की प्रक्रिया जारी है। योगी सरकार में सात ऐसे मंत्री है, जो या तो किसी सदन का सदस्य नहीं है या फिर उनका विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है। इन मंत्रियों में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी शामिल है। मौर्य का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। गाजियाबाद के नरेंद्र कश्यप का भी विधान परिषद जाना तय है। वे अभी किसी भी सदन के सदस्य नहीं है जबकि वे योगी मंत्रिमंडल में मंत्री है। इसी तरह दानिश आजाद का भी एमएलसी बनना तय है। मंत्री भूपेंद्र चौधरी, जेपी एस राठौर, और जसवंत सैनी का भी विधान परिषद जाना तय है, क्योंकि ये सभी मंत्री है।
दो सीटों के लिए भाजपा में कई नामों पर चर्चा चल रही है लेकिन अभी तक फाइनल नहीं हो पाया। इनमें अपर्णा यादव, अश्वनी त्यागी, अमरपाल मौर्य, मोहित बेनीवाल, संगीत सोम और सुरेश राणा के नाम शामिल है। अश्वनी त्यागी का कार्यकाल खत्म हो रहा है। पार्टी उन्हें दोबारा विधान परिषद भेजेगी या नहीं, कल सुबह तक तय हो जाएगा। वहीं, अर्पणा यादव को विधान परिषद में भेजने की रणनीति बन रही है ताकि अखिलेश को घेरा जा सके।