नोएडा (युग करवट)। शहर में रहने वाले लोगों को विभिन्न प्रकार का प्रलोभन देकर और भय दिखाकर उनसे साइबर ठगी करने वाले बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए गौतमबुद्धनगर पुलिस कमिश्नर ने खाका तैयार कर लिया गया है। इस तरह के अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए एक विशेष टीम गठित कर ठगी के तरीकों और गिरोह के सदस्यों की जानकारी जुटाई जा रही है। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि जल्द ही इस तरह के गैंग के लोग सलाखों के पीछे होंगे। विशेष टीम में साइबर क्राइम थाने समेत अन्य थानों पर तैनात उन पुलिसकर्मियों को शामिल किया गया है जिन्हें तकनीक की अच्छी समझ है, और साइबर ठग गिरोह पर पूर्व में काम किया है।
गौतमबुद्ध नगर की पुलिस आयुक्त लक्ष्मी सिंह ने बताया कि बीते कुछ समय से पार्ट टाइम नौकरी, साइबर रेप और पार्सल में ड्रग्स होने का डर दिखाने के बाद साइबर ठगी करने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए विशेष टीम बनाई गई है। देश के भीतर मौजूद ठग गिरोह के सदस्यों के बारे में टीम को अहम जानकारी मिली है। जल्द ही भारी संख्या में ठग गिरोह के सदस्यों की गिरफ्तारी होगी। गिरोहों के मुख्य आरोपियों और सरगना द्वारा जिनके खातों का इस्तेमाल किया जाता है उनपर भी कार्रवाई होगी। सरगना से लेकर खाते उपलब्ध कराने वाले आरोपियों पर शिकंजा कसा जाएगा। साइबर ठगी के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए सोसायटियों और सेक्टरों में विशेष अभियान चलाया जाएगा। लोगों को हेल्पलाइन नंबर समेत अन्य तरीकों की जानकारी दी जाएगी ताकि उन्हें ठगी से बचाया जा सके। लोगों को बताया जाएगा कि अगर गोल्डन ऑवर में पीडि़त ठगी की शिकायत कर देता है तो रकम फ्रीज होने की पूरी संभावना रहती है।