वरिष्ठ संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। श्रम विभाग के तत्वावधान में कमला नेहरु नगर में जिला प्रशासन द्वारा लगाए गए पंडाल में आज 3003 जोडे विवाह बंधन में बंध गए। सामुहिक विवाह कार्यक्रम में गाजियाबाद, हापुड़ और बुलंदशहर से आए जोड़े शामिल हुए। सभी जोड़ों को उनके धर्म के अनुसार विवाह के रिति रिवाज संपन्न कराया गया। हिंदू धर्म के 1850, 1147 मुस्लिम जोड़े, तीन बौद्व और तीन सिख जोड़ें का विवाह एक ही पंडाल में संपन्न कराया गया। इस दौरान सभी धर्म के गुरुओं ने विवाह की रस्में संपन्न कराईं। केंद्रीय राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह एवं श्रम विभाग सेवा योजन मंत्री अनिल राजभर ने वैवाहिक जीवन में बंधने जा रहे सभी जोड़ों को मंच से आशीर्वाद दिया। बताया गया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ही विवाह बंधन में बंधने वाले जोड़ों को वर्चुअल आशीर्वाद प्रदान करेंगे। विवाह से पूर्व ही वैवाहित सूत्र में बंधने वाले जोड़ों के बैंक खाते में 10 हजार रुपये की राशि प्रशासन द्वारा पहुंचा दी गई थी। शेष 65 हजार रुपये की राशि तीन दिन में सभी जोड़ों के बैंक एकाउंट में पहुंचेगी। सुबह से ही पंडाल मे पंजीकरण के बाद जोड़ों की एंट्री कराई गई। सुविधा एवं सुरक्षा बनाए रखने के लिए पंडाल को ब्लॉक में विभाजित किया गया था। हिंदू, मुस्लिम, सिख और बौद्व धर्म के धर्मगुरु विवाह संपन्न कराने क लिए सुबह से ही पंडाल में पहुंच चुके थे। जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह, केसीडब्लू गोर्ड के अध्यक्ष डॉ. रघुराज प्रताप सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष गाजियाबाद ममता त्यागी, महापौर आशा शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी विक्रमादित्य सिंह मलिक, उप श्रमायुक्त रवि श्रीवास्तव, जिला पंचायम अध्यक्ष हापुड़ रेखानागर, एडीएम प्रशासन रितु सुहास, पूर्व एमएलसी सुरेश कश्यप आदि ने विवाह बंधन में बधे जोड़ों को आशीर्वाद प्रदान किया।
सामूहिक विवाह कार्यक्रम में मौजूद श्रम विभाग सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर ने मंडल में मौजूद सभी जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि यूपी सरकार की सभी योजनाओं को धरातल पर उतारा जा रहा है।
केंद्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद जनरल वीके सिंह ने वैवाहिक बंधन में बंधने वाले जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि गाजियाबाद जनपद के लिए यह बड़ा दिन है। सामूहिल विभाग सरकार का श्रमिकों को वह तोहफा है जिसे वे जिंदगी भर याद रखेंगे।