युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कोरोना के दौर में ऑक्सीजन जैसे सर्जिकल उपकरणों की सप्लाई करने वाले सप्लायरों के बीच में ठगों के ऐसे भी कई गैंग सक्रिय हो गये हैं जो सर्जिकल उपकरणों के नाम पर अनेक लोगों से ठगी कर चुके हैं। ऐसे ही ठगों के गिरोह की ठगी का एक मामला उस समय उजागर हुआ जब एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल के परिचितों से ऑक्सीजन कंसंट्रेटरों की सप्लाई के नाम पर जालसाजों के गिरोह ने दिल्ली निवासी एक महिला के माध्यम से लाखों की ठगी कर ली।
एक आईपीएस अधिकारी के परिचितों के साथ हुई ठगी का यह सनसनीखेज मामला उस समय उजागर हुआ जब आईपीएस अधिकारी निपुण अग्रवाल व महिला के बीच डील को लेकर हुई बातचीत के कई ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गये। इस संदर्भ में एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया कि उनके किसी परिचित को सर्जिकल उपकरणों की सप्लाई का सरकारी कॉन्ट्रेक्ट मिला था। उसी समय फैजल नामक व्यक्ति उनके संपर्क में आया। श्री अग्रवाल ने बताया कि फैजल के माध्यम से ५० ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सप्लाई करने का कॉन्ट्रेक्ट दिल्ली में रहने वाली एक महिला के साथ हुआ था जिसके बाद महिला ने उनके परिचित से लाखों की रकम ले ली।
रकम लेने के बाद महिला और उसके सहयोगियों ने ना तो ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिए और ना ही ली गई मोटी रकम वापस की। श्री अग्रवाल ने बताया कि कई बार संपर्क करने पर महिला केवल बहाना बनाती हुई दिखाई दी। इतना ही नहीं आरोपिता महिला ने उनकी बातचीत के ऑडियो व मधुर विहार दिल्ली में दी गई तहरीर भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। श्री अग्रवाल ने बताया कि उनके परिचित की तहरीर के आधार पर सर्जिकल उपकरणों की सप्लाई करने का झांसा देने वाले गिरोह के कई सदस्यों के खिलाफ तहरीर देकर धोखादड़ी जैसी संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज करवा दी। श्री अग्रवाल ने बताया कि पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज होते ही उक्त प्रकरण की जांच शुरू कर दी है। उधर डीआईजी अमित पाठक का कहना है कि इस प्रकरण की जांच करके दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। वहीं दूसरी ओर दिल्ली निवासी महिला ने भी बलविंदर नामक व्यक्ति समेत कई लोगों के खिलाफ धोखादड़ी करने की तहरीर दिल्ली के मधुर विहार थाने में दी है।