नगर संवाददाता
गाजियाबाद। (युग करवट) शिक्षक दिवस के अवसर पर जिला सभागार में शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें जिले के २५ शिक्षकों को शिक्षा के क्षेत्र में दिए गए उनके योगदान के लिए प्रशस्त्रि पत्र देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा शिक्षक सम्मान समारोह का लखनऊ में भी आयोजन किया गया, जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के शिक्षकों को राज्य शिक्षक सम्मान से सम्मानित किया। इस समारोह में गाजियाबाद की शिक्षिका काजल शर्मा भी सम्मानित की गईं। इस कार्यक्रम का जिला सभागार में लाइव प्रसारण किया गया। लाइव प्रसारण के उपरांत महापौर आशा शर्मा, डीएम आरके सिंह और सीडीओ विक्रमादित्य सिंह मलिक ने शिक्षकों को सम्मानित किया। इस अवसर पर महापौर आशा शर्मा ने कहा कि शिक्षक देश के विकास की नींव को मजबूत करते हैं।
शिक्षक ही है जो एक बच्चे को देश का बेहतर नागरिक बनाने का काम करते हैं। डीएम आरके सिंह ने कहा कि एक शिक्षक के ऊपर सिर्फ शिक्षा देने का ही भार नहीं होता, बल्कि वे एक ऐसा नागरिक भी तैयार करते हैं जो आगे चलकर देश के विकास में अपना योगदान दें और समाज को एक दिशा देने का काम करें। शिक्षकों की यह जिम्मेदारी होती है कि वे सिर्फ किताबी ज्ञान ही नहीं, बल्कि अपने छात्रों को हर स्तर से शिक्षित करते हैं, तभी देश का भविष्य मजबूत होता है। समारोह के दौरान नगर क्षेत्र के विद्यालयों से ममता शर्मा, ऋतु सिंह, हेमंत कुमार, भोजपुर ब्लॉक के विद्यालयों से रीना, किरन शर्मा, अंचल शर्मा, लज्जाराम, देवांकुर, लोनी ब्लॉक से नीरव शर्मा, ऋचा भाटिया, रूबी शर्मा, निदा आबिदी, अनुपमा संगीता, मुरादनगर ब्लॉक से आवृत्ति अग्रवाल, देवकुमार, लक्ष्मी त्यागी, प्रमोद सिरोही, ममता खन्ना, रजापुर ब्लॉक से ज्योत्सना गोस्वामी, मौ. आमिर, मौ. हारून, सुकान्ति कुमारी को सम्मानित किया गया। इस मौके पर बीएसए विनोद कुमार मिश्रा, डीसी गौरव त्यागी आदि मौजूद रहे।