युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कविनगर स्थित महाराजा अग्रसेन वाटिका में आयोजित ब्राह्मण धर्म संसद महासम्मेलन का सोमवार को समापन हो गया। समापन मौके पर आयोजक विश्व ब्राह्मण संघ के शुभारंभ भगवान परशुराम के चित्र के सामने ज्योति प्रज्वलन के साथ किया गया। सम्मेलन में ब्राह्मïण समाज के उत्थान और राजनीतिक भागेदारी पर विस्तार से चर्चा की गई। इस दौरान समाज में जागरूकता लाने पर भी विचार किया गया।
सम्मेलन में डीजे पर पूर्ण पाबंदी एवं बरात में वर पक्ष की ओर से केवल एक बैंड बाजे की व्यवस्था पर राय व्यक्त की गई। शादी समारोह में खर्च में कमी करने और आडंबरों से दूर रहने पर बल दिया गया। आपसी विवादों को मध्यस्थता के जरिए हल करने और सभी विषयों पर एक राय कायम करने की बात कही गई। प्रवक्ता पंडित बीके शर्मा हनुमान ने कहा कि समाज के हर एक क्षेत्र में ब्राह्मण अपने सर्वोत्तम प्रयासों से आपने आप को स्थापित कर रहे हैं। विश्व ब्राह्मण संघ किसी जाति या धर्म के विरुद्ध नहीं है। यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर ब्राह्मण वोटों पर सभी की निगाहें लगी हुई हैं, देखना है कि 2022 में ब्राह्मण समुदाय की अंगुली बैलेट मशीन पर किसके चुनाव चिह्न की ओर जाती है। इस अवसर पर ऋषि पाल शर्मा, विनीत कुमार शर्मा, सुभाष चंद शर्मा, धर्मपाल, अनिल कुमार, शिवकुमार शर्मा मंचासीन थे। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में ब्राह्मïण समाज के लोगों ने भाग लिया। संचालन बीके शर्मा हनुमान ने किया।