युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर्स संगठन ने अपनी मांगों को लेकर राजनगर स्थित पावर कॉरपोरेशन के मुख्यालय पर धरना दिया। इस दौरान सभी स्टेशनों पर काम काज भी ठप रखा गया। धरनारत अभियंताओं ने बताया कि संविदाकर्मियों को बिना शटडाउन दिए ही लाइनों पर काम कराया जा रहा है। सुरक्षा के उपकरण तक उपलब्ध नहीं कराए जा रहे हैं। अनुरक्षण के लिए भंडार केंद्र में आवश्यक उपकरण तक उपलब्ध नहीं हैं। बिना किसी वाहन के लाइन पेट्रोलिंग व मरम्मत के कार्य कराएं जा रहे हैं। कस्टमर केयर द्वारा शिकायत दर्ज करने के बाद अभियंताओं को इसकी जानकारी तक नहीं दी जाती है। झटपट पोर्टल पर दस्तावेजों की जांच के कोई स्पष्टï दिशा निर्देश नहीं हैं। रिजेक्शन होने पर अभियंताओं की सर्विस बुक में चेतावनी दर्ज कराने के लिए पत्र जारी कर दिया जाता है। संघ के जिला सचिव उमेश पाल सिंह ने बताया कि रात-दिन काम में लगे रहने वाले अवर अभियंताओं को अनावश्यक रूप से सुबह नौ वीसी में जोड़े जाना व रात में नौ बजे से ११ बजे तक उपकेंद्र में उपस्थित रहना और एलटी लाइन में फाल्ट होने पर अवर अभियंता द्वारा सही कराया जाना, उत्पीडऩ की कार्रवाई है। इन समस्याओं के विरोध में चरणवार आंदोलन किया जाएगा। दूसरा प्रदर्शन चार अगस्त को किया जाएगा।