युग करवट ब्यूरो
लखनऊ। मैनपुरी लोकसभा व खतौली विधानसभा उपचुनाव में मिली जीत से उत्साहित समाजवादी पार्टी अब नगरीय निकाय चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। इस चुनाव में सपा पार्टी के सक्रिय सदस्यों पर ही किस्मत आजमाएगी। नगर निगमों में मेयर व पार्षद के अलावा नगर पालिका परिषद व नगर पंचायत में अध्यक्ष पद के टिकट के लिए सपा ने यह अनिवार्यता रखी है। इन पदों के टिकट की चाह रखने वालों को आवेदन के समय पार्टी की सक्रिय सदस्यता के साथ ही समाजवादी बुलेटिन की आजीवन सदस्यता की रसीद लगाना होगा। नगरीय निकाय चुनाव में प्रत्येक जिले में सभी प्रमुख नेताओं को लेकर चुनाव संचालन समिति बना दी है। समिति में जिला और महानगर अध्यक्ष, वर्तमान एवं पूर्व सांसद, विधायक तथा विधानसभा का चुनाव लड़ चुके उम्मीदवारों को रखा गया है। संचालन समिति ही अपने यहां चुनाव लडऩे वाले उम्मीदवारों के आवेदन लेने के बाद उनकी छंटनी करेगी। सर्वसम्मति से यदि एक नाम तय हो जाएगा तो उसका प्रस्ताव पार्टी मुख्यालय भेजा जाएगा। यदि एक नाम पर सहमति नहीं बनती है तो प्रत्याशियों के नामों का पैनल मुख्यालय भेजा जाएगा। पार्टी नेतृत्व यहां से टिकट फाइनल करेगा। सपा ने नगर निगम महापौर, पार्षद, नगर पालिका परिषद अध्यक्ष एवं नगर पंचायत अध्यक्ष पद पर सपा के सिंबल से उम्मीदवार उतारने का फैसला लिया है।