युग करवट ब्यूरो
लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानमंडल के मानसून सत्र का चौथा दिन महिला सदस्यों को समर्पित किया गया। सदन में आज 53 महिला विधायकों को अपनी बात रखने का मौका दिया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमें बेहद प्रसन्नता है कि आज सदन में सभी लोग नारी शक्ति को देख रहे हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत में महिला-पुरुष दोनों को समान अधिकार है। हम सभी को पता है कि मातृ शक्ति से सब कुछ संभव है। देश की आजादी के बाद महिलाओं के हक में काम हुए। झांसी की रानी पर पूरा उत्तर प्रदेश गर्व करता है। इस दिन को खास बनाने के लिए 150 महिलाओं को विधान भवन में आमंत्रित किया गया। इन महिला विधायकों को सुनने के लिए विधानसभा अध्यक्ष सतीश माहाना ने केजीएमयू से महिला डाक्टर, एकेटीयू से महिला शिक्षक तथा प्रदेश के विधि विश्वविद्यालयों से कानून की पढ़ाई करने वाली महिलाओं को सदन में आमंत्रित किया।