युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के साथ ही आगामी मानसून मौसम को देखते हुए प्रदेश सरकार ने वेक्टर जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए भी तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज गाजियाबाद सहित प्रदेश के अन्य जिलों के जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दिशा निर्देश दिए।
संचारी रोक नियंत्रण अभियान एक से ३१ जुलाई तक संचालित होगा। इस अभियान में जलजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए कार्य किए जाएंगे। जलजनित बीमारियां ना फैल सकें, इसके लिए तीन स्तर से सुरक्षा कवच तैयार किया जाएगा। जिसमें सफाई, दवा और छिड़काव व फॉंिगंग शामिल होगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए निर्देश दिए हैं कि एक जुलाई से शुरू होने वाले विशेष अभियान को लेकर तैयारी शुरू करें, किसी भी स्तर से लापरवाही ना बरती जाए। इस दौरान उन्होंने स्वच्छता और फॉगिंग पर विशेष ध्यान देने के निर्देश भी दिए हैं। बता दें कि बरसात के मौसम में बड़े पैमाने पर जलजनित बीमारियां फैलने का खतरा बना रहता है। कोरोना संक्रमण के चलते यह खतरा और भी बढ़ा हुआ है। ऐसे में संक्रमण की रोकथाम के साथ ही प्रदेश सरकार ने अब अन्य बीमारियों की रोकथाम के लिए जरूरी कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। संचारी रोग के अलावा सीएम ने वीसी में वैक्सीनेशन अभियान में और भी तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। वहीं डीएम आरके सिंह ने भी सभी नगर पालिका अधिकारियों से तीन दिन के अंदर संचारी रोग नियंत्रण के लिए कार्य योजना की मांग की है। वीसी में सीएमओ डॉ.एनके गुप्ता आदि मौजूद रहे।