युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। निर्माण विभाग के छह कर्मचारियों को बड़ी राहत। नगर निगम कर्मचारी संघ के हस्तक्षेप के बाद निगम के छह कर्मचारियों के वेतन से कटौती नहीं होगी! गत दिनों निगम के चीफ इंजीनियर एनके चौधरी ने अपने ही विभाग का निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान पता चला कि छह कर्मचारी तय समय पर ऑफिस नहीं आए। इन कर्मचारियों में लिपिक कांता त्यागी, डिंपी शर्मा, और अनुचर रजनी, शाबो, मंजूर मिश्रा और भास्कर शामिल थे। निगम के चीफ इंजीनियर की ओर से इस मामले में सभी अनुपस्थित कर्मचारियों को कारण बताओं नोटिस भेजा था।
कारण बताओं नोटिस कर्मचारियों के चीफ इंजीनियर को भेजने से पहले ही निगम प्रशासन ने इनका एक दिन का वेतन काटने के निर्देश जारी कर दिए। इस कार्रवाई से निगम प्रशासन के अफसरों में हडक़ंप मच गया। इस प्रकरण को लेकर कर्मचारी लामबंद हो गए। कई कर्मचारियों का कहना था कि अगर नगर निगम सुबह साढ़े नौ बजे ऑफिस नहीं पहुंचने पर कार्रवाई करता है तो पांच बजे के बाद कार्य लेने के मामले में कर्मचारियों को अतिरिक्त वेतन दिया जाए या फिर वह ड्यूटी समाप्त होने के बाद कार्य नहीं करेंगे। इसको लेकर नगर निगम कर्मचारी संघ भी एक्टिव हो गए। नगर निगम कर्मचारी संघ के अध्यक्ष नैन सिंह ने इस प्रकरण को लेकर तेवर दिखाए। उन्होंने नोटिसों का जवाब दिया। उनका कहना है कि अब इन सभी आधा दर्जन कर्मचारियों को वेतन नहीं कटेगा।