गाजियाबाद (युग करवट)। कल रालोद और संघ कार्यकर्ताओं के बीच जिस तरह हंगामा हुआ उसको लेकर अभी भी कहीं ना कहीं तनाव है। कल पुलिस के एक अधिकारी संघ कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज करना नहीं चाहते थे, लेकिन उनसे बड़े अधिकारी ने रालोद नेताओं की पूरी बात सुनीं और उसके बाद संघ नेताओं के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिये। इसमें भाजपा के एक वरिष्ठ नेता भी शामिल हैं। हालांकि अभी तक संघ या भाजपा के किसी नेता की गिरफ्तारी नहीं हुई है, जबकि दूसरे पक्ष के लोगों को जेल भेज दिया गया है। कल गुरु गोविंद सिंह के साहबजादों के शहादत दिवस पर आरएसएस के स्वयंसेवकों द्वारा कविनगर थाना क्षेत्र की शास्त्री नगर कॉलोनी में पथ संचालन करते समय किसी बात को लेकर संघ कार्यकर्ता और रालोद नेता अरविंद तेवतिया के बच्चों के बीच मारपीट हो गई थी। इस झगड़े में दोनों पक्षों के कई लोग घायल हो गये थे। उक्त घटना के बाद कविनगर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए जहां संघ कार्यकर्ता शास्त्रीनगर निवासी गिरीश कुमार की तहरीर पर रालोद नेता अरविंद तेवतिया, अंकुर तेवतिया, साहिल तेवतिया, सचिन तेवतिया, विशाल व नरेद्र चौधरी सहित एक दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ धारा १४७, १४८, १४९, ३२३, ३०७, ३५२ व ३६५ के तहत मुकदमा दर्ज करके कई अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। वहीं, अरविंद तेवतिया व कृष्णपाल सिंह निवासी महेंद्रा एंक्लेव की तरफ से मयंक गोयल, अनुराग कौशिक, दुष्यंत पुण्डीर, दुष्यंत राय, गीरीश कुमार व दशानन आदि के खिलाफ भी आपराधिक धारा १४७, १४८, १४९, ३२३, ४५२, ३०७, ५०४ व ५०६ के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है।