नई दिल्ली (युग करवट)। तिलकनगर में गाड़ी के शोरूम पर सत्रह राउंड गोली चलाने वाले अभियुक्त की पुलिस मुठभेड़ में गोली लगने से मौत हो गई। शोरूम मालिक से करोड़ो रूपए की रंगदारी मांगी गई थी। मरने वाले अपराधी की पहचान विदेश में बैठे गैंगस्टर हिमांशु भाऊ गिरोह के शूटर अजय सिंगरोहा उर्फ गोली के रूप में हुई है। हिमांशु भाऊ गिरोह पुर्तगाल से गिरोह चलाता है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को सूचना मिली थी कि गैंगस्टर हिमांशु भाऊ गिरोह का एक शूटर अजय सिंगरोहा उर्फ गोली बाहरी दिल्ली के गांव खेड़ा खुर्द आएगा। सूचना के आधार पर पुलिस ने उसे पकडऩे के लिए जाल बिछाया और रात करीब 12 बजे गोली को एक होंडा सिटी गाड़ी में स्पॉट किया गया। इसके बाद पुलिस पार्टी ने उसे आत्मसमर्पण के लिए कहा, लेकिन खुद को घिरा देख अभियुक्त ने पुलिस पार्टी पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी और जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने भी गोलियां चलाईं जिसमें वह घायल हो गया। डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। गोली के पास से दो पिस्टल और कारतूस बरामद किए गए हैं। गोली 6 मई को दिल्ली के थाना तिलकनगर क्षेत्र में एक हत्या के प्रयास के मामले और 10 मार्चको मुरथल के गुलशन ढाबे पर दिनदहाड़े हत्या में वांछित था।