युग करवट ब्यूरो
लखनऊ। आगामी विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश की योगी सरकार ने बेसिक शिक्षा में तैनात अनुदेशकों और रसोईयों को नए साल से पहले बड़ा तोहफा दिया हैं। बुधवार को राजधानी लखनऊ में अनुदेशकों और रसोईयों के सम्मलेन में उनके मानदेय में बढ़ोत्तरी के साथ कई अन्य सुविधाओं का भी ऐलान किया। मुख्यमंत्री ने अनुदेशकों और अंशकालिक अनुदेशकों के मानदेय में 2000 रुपये प्रति माह वृद्धि का ऐलान किया। साथ ही उनकी अन्य मांगों के लिए बेसिक शिक्षा विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि सरकार उनकी नौकरी को सुरक्षित करने के लिए हरसंभव उपाय करेगी। मुख्यमंत्री ने रसोईयों के मानदेय में 500 रुपये प्रति माह की वृद्धि के साथ साल में दो साड़ी मिलेगी। एप्रन और हेड कैप की राशि उनके खातों में जमा होगी। इतना ही नहीं रसोईयों को 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा भी मिलेगा। अटल बिहारी वाजेपेयी कंवेंशन सेंटर में आयोजित सम्मलेन को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर 2017 में प्रदेश में बीजेपी की सरकार नहीं आती तो बहुत सारे स्कूल बंद हो गए होते। स्कूल अगर बंद हो गए होते तो आप में से बहुत सारे लोगों की सेवाएं समाप्त हो गई होती।