युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश सरकार के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त किए जाने की मांग को लेकर जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय पर आज डिजिटल धरने और प्रदर्शन का आयोजन किया गया। कांग्रेसियों का कहना है कि कोरोना काल में उन्होंने अपने पद का दुरूयोग किया है।
जिलाध्यक्ष बिजेंद्र यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए कोरोना के दौर में अपने भाई को ईडब्ल्यूएस श्रेणी में अपात्र होने पर विश्वविद्यालय में प्रोफेसर नियुक्त कराया। कांग्रेसियों ने डिजिटल धरने प्रदर्शन के दौरान बारहवीं कक्षा के छात्रों की परीक्षा स्थगित किए जाने की मांग भी उठाई। जिलाध्यक्ष बिजेंद्र यादव ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के निर्देश पर यह डिजिटल धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। जिलाध्यक्ष ने कहा कि कोरोना संकट में अपने परिवार के लोगों के लिए भाजपा के मंत्री आपदा में अवसर की तलाश कर रहे हैं। ऐसे लोगों को पद पर बने रहने का कोई हक नहीं है। धरने के दौरान संगठन प्रभारी अमोल वशिष्ठ, जिला प्रवक्ता सलीम सैफी, विधि विभाग के जिला चेयरमैन रजनीकांत राजू, ओबीसी विभाग के जिला चेयरमैन त्रिलोक सिंह, ओबीसी विभाग के महानगर अध्यक्ष विजयपाल चौधरी, पूर्व महानगर अध्यक्ष वीके अग्निहोत्री, लक्ष्मीकांत झा, बाबूराम शर्मा, श्रीचंद दिवाकर, रुपेश त्यागी काकड़ा, धीरेंद्र ध्यानी, पार्षद मायादेवी, जिला उपाध्यक्ष सुनिता उपाध्याय, मोनिका उपाध्याय, बाबूराम एडवोकेट, अख्तर खां, अखिलेश त्रिपाठी, घनश्याम पांडेय, शंकर सिंह, शंकर ठाकुर, मुशिद खान, आशीष प्रेमी, विनित त्यागी व रामप्रकाश कश्यप आदि मौजूद रहे।