गाजियाबाद (युग करवट)। कमिश्नरेट बनने के बाद बदमाश विशेषकर साइबर क्रिमिनल कितने बेलगाम हो गये हैं इसका जीता जागता सबूत उस समय मिल गया जब साइबर अपराधियों ने वेव सिटी थाने के एसओ मनोज कुमार के अलावा एक निरीक्षक का मोबाइल नंबर हैक करके उनके साथ ठगी का प्रयास किया। इसके अलावा साइबर क्रिमिनलों ने दो पुलिसकर्मियों के बैंक खातों को भी निशाना बनाया। वेव सिटी थाने के एसओ मनोज कुमार ने बताया कि साइबर क्रिमिनलों ने उनका मोबाइल नंबर हैक कर अपने नंबर पर उनका फोटो लगाकर उनके परिचितों, दोस्तों व रिश्तेदारों से पैसे मांगने शुरू कर दिये। उन्हें इस आपराधिक मामले का पता उस समय चला जब कुछ लोगों ने उन्हें इस संदर्भ में जानकारी दी। श्री कुमार ने बताया कि जब उन्होंने अपने मोबाइल की पड़ताल की तो पता चला कि साइबर क्रिमिनलों द्वारा उनका मोबाइल नंबर हक कर लेने की वजह से उनकी लॉग बुक में फीड नंबरों का डेटा भी उड़ गया। उसके बाद उन्होंने सभी को इस मामले की जानकारी दी। वहीं गाजियाबाद में तैनात रहे और आजकल गैर जनपद में तैनात निरीक्षक को भी साइबर क्रिमिनलों न इस प्रकार से ही टारगेट पर लिया। बता दें कि पिछले दिनों में कई पुलिस अधिकारी और पुलिसकर्मी साइबर क्रिमिनलों का निशाना बन चुके हैं।