लंबे समय बाद कल क्षेत्रीय सांसद जनरल वीके सिंह के राजनगर स्थित आवास पर आयोजित उनके जन्मदिन समारोह में काफी रोनक दिखाई दी। समारोह बड़ा साधारण था। सांसद की ओर से सुंदरकांड का पाठ और भंडारे का आयोजन किया गया था, लेकिन उनके चाहने वालों की भीड़ भी कल कम नहीं थी। वो लोग जो क्षेत्रीय सांसद पर समय-समय पर टिप्पणी करते हैं वो भी बधाई देने वालों की लाइन में अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। हालांकि इस पूरे आयोजन के पीछे वीके सिंह के निजी सचिव कुलदीप चौहान की भी अहम भूमिका रही और उनका प्रयास था कि सभी लोग आपस में समन्वय के साथ जुड़ें और क्षेत्र के विकास में सभी जनप्रतिनिधि मिलकर सहयोग करें। काफी हद तक उनका ये प्रयास सफल भी रहा और ऐसे लोग भी कल पहुंचे जो २०१९ में वीके सिंह का टिकट कटवाने वाली मुहिम का हिस्सा थे। इतना ही नहीं लंबे समय बाद बड़ा दिल दिखाते हुए शहर की महापौर आशा शर्मा भी बधाई देने के लिए पहुंची। बात भाजपा की नहीं अन्य दलों के लोग भी वीके सिंह को बधाई देने के लिए पहुंचे। दरअसल वीके सिंह का अपना एक अंदाज है, वो सभी से बहुत ही प्यार और स्नेह के साथ मिलते हैं। चाहे कोई नेता किसी भी दल का हो वो बहुत ही आदर के साथ मिलते हैं। इतना ही नहीं जो लोग उनका टिकट कटवाने वाली मुहिम में शामिल थे उनका भी उन्होंने कल गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। ये एक अच्छा प्रयास है और उम्मीद करनी चाहिए कि अब सब गिले-शिकवे दूर होकर एक साथ आगे बढ़ेंगे और सभी जनप्रतिनिधि गाजियाबाद के विकास के लिए कांधे से कांधा मिलाकर चलेंगे। ये पहला अवसर था जब सभी दलों के लोग भाजपा के सांसद को मुबारकबाद देने के लिए उनके निवास पर पहुुंचे थे। कुछ लोग अब भी नहीं पहुंच पाये, हो सकता है वो कहीं व्यस्त हों, लेकिन जो भी हो कम से कम जनप्रतिनिधियों को आपस में समन्वय बनाकर विकास के मामले में तो हाथ से हाथ मिलाकर आगे बढऩा चाहिए। क्योंकि अगर जनप्रतिनिधियों में ही समन्वय नहीं होगा तो फिर उसका लाभ अफसर उठाते हैं और उससे विकास भी प्रभावित होता है। बहरहाल वीके सिंह ने भी कल सभी का बहुत गर्मजोशी के साथ स्वागत किया और मुबारकबाद कुबूल की।
– जय हिन्द।