युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कई करोड़ रुपये के माल की खरीद के लिए निगम ने जिन टेंडरों की शर्त बदली थी अब उन्हें कैंसल कर दिया। अब नए सिरे से फिर से माल की सप्लाई लेने के लिए निगम ने टेंडर मांगे है। इस बार टेंडर डालने की अंतिम तारीख 10 सितंबर तय की गई है। नए सिरे से टेंडर मांगने के लिए निगम ने तीसरी बार शर्त बदली है।
इस बार ठेकेदारों के साथ सीधे कंपनी भी स्ट्रीट लाइट का सामान सप्लाई कर सकेगी। इसके लिए अनिवार्य है कि सामान लैब से पास होना चाहिए। लैब कंपनी के बाहर और कैंपस में होने की शर्त नहीं रखी गई है। निगम ने पिछले महीने की सात अगस्त को टेंडर मांगे थे। जिनको लेकर विवाद पैदा हो गया था।
निगम ने शर्त लगाई थी कि टेंडर में वह ठेकेदार ही हिस्सा ले सकेंगे जिसके पास लंबा अनुभव हो। विवाद बढऩे के बाद नगर निगम ने इस शर्त को हटा दी। इसके बाद निगम ने शर्त लगाई कि निगम में माल सप्लाई केवल उस कंपनी का ही हो सकेगा जिस कंपनी की लैंब कैंपस में होगी। इसको लेकर भी विवाद हो गया।
इस मामले में खबर का प्रकाशन होने के बाद निगम प्रशासन ने फिर से एक्शन लिया। निगम ने मांगे गए सभी टेंडर कैंसल कर दिए। नगर निगम ने अब एक बार फिर से शर्त बदल दी। इस बार निगम ने ठेकेदारों के साथ माल सप्लाई के लिए कंपनी को भी टेंडर डालने के लिए छूट दी है।