युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। शर्त को लेकर लाइट विभाग के टेंडर पर विवाद हुआ तो निगम ने इस टेंडर के डालने की तारीख आगे बढ़ा दी। पहले यह टेंडर चार अगस्त को खोला जाना था। निगम प्रशासन ने अब तारीख बढ़ाकर इसे 12 अगस्त कर दिया है। हाल ही में इस टेंडर में लगाई गई एक शर्त को लेकर विवाद पैदा हो गया। बीजेपी पार्षद हिमांशु मित्तल ने नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर को एक पत्र लिखा था। जिसमें आरोप लगाया था कि नगर निगम ने 72 से लेकर 250 वॉट तक की एलईडी लाइट के लिए जो टेंडर मांगा है उसे एक कंपनी को देने के लिए ऐसी शर्त का खेला गया है। निगम ने जो शर्त लगाई उसके हिसाब से वह कंपनी ही निगम में माल सप्लाई कर सकती है जिस कंपनी के पास अपनी खुद की लैब होगी। पार्षद मित्तल का आरोप है कि नगर निगम ने यह शर्त इस लिए लगाई ताकि किसी एक कंपनी को माल सप्लाई का करोड़ों रुपये का ठेका दिया जा सके। पार्षद द्वारा इस मामले में आपत्तियां दर्ज होने के बाद भी नगर निगम प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई।