गाजियाबाद। विधान परिषद के सदस्यों की अध्ययन समिति आज गाजियाबाद में है। वह जनप्रतिनिधियों द्वारा नगर निगम को विकास कार्य कराने के लिए लिखे गए पत्र के आधार पर हुए विकास कार्यों का जायजा लेगी। समिति में पांच सदस्य शामिल है। समिति ने निगम के अधिकारियों के साथ विकास कार्यों को लेकर समीक्षा भी की है। समिति के समक्ष निर्माण विभाग के चीफ इंजीनियर, जलकल विभाग के जीएम, आदि अधिकारी भी समीक्षा बैठक में मौजूद रहे। दरअसल प्रदेश सरकार को शिकायत मिल रही थी कि जनप्रतिनिधियों के पत्र लिखे जाने के बाद भी नगर निकायों के कई अधिकारी विकास कार्य नहीं कराते है। इसी की जांच के लिए विधान परिषद के अध्यक्ष की ओर से इस समिति का गठन किया गया है। समिति आज गाजियाबाद में समीक्षा कर रही है। अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार ने बताया कि समिति दोपहर बाद हो सकता है कि जन प्रतिनिधियों के कहने और उनके पत्राचार के आधार पर हुए विकास कार्यों का मौके पर निरीक्षण भी करेगी। समीक्षा के दौरान समिति के सदस्यों ने निगम के अधिकारियों से तीखे सवाल भी पूछे।