आशित त्यागी
गाजियाबाद। पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांग जन सशक्तिकरण मंत्री नरेन्द्र कश्यप का कहना है कि उनकी प्राथमिकता पिछड़े वर्ग के बच्चों को अच्छी शिक्षा और रोजगार दिलाना है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश के लाखों दिव्यागों के जीवन को सुविधाजनक बनाना उनका लक्ष्य है। नरेन्द्र कश्यप युग करवट यू ट्यूब चैनल से बात कर रहे थे। उन्होनें कहा कि गाजियाबाद उनका गृहनगर है इसलिए यहां के कार्य प्राथमिकता पर होंगे।
नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि भाजपा नेतृत्व, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन पर जो भरोसा जताया है उसे पूरा किया जाएगा। पिछड़े वर्ग के लोगों और दिव्यांग जनों को सरकारी योजनाओं का पूरा लाभ मिल सके इसके लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। ओबीसी के छात्र-छात्राओं को छात्रवृति, वित्त निगम की सभी योजनाओं का लाभ दिलाया जाएगा। दिव्यांगों के पुनर्वास, उनकी पेंशन संबंधी सभी समस्याओं का तत्काल निस्तारण होगा।
उन्होनें कहा कि गाजियाबाद उनका अपना शहर है, इसलिए अपने मंत्रालय से अलग भी जो काम होंगे उनको संबंधित मंत्री और अगर जरूरत पड़ी तो मुख्यमंत्री से बात कर कराया जाएगा। गाजियाबाद में अभी बहुत से विकास कार्य हो रहे हैं। आरओबी बन रहा है, सडक़ों का निर्माण हो रहा है, सरकारी अस्पताल की प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा और भी जो कार्य होंगे सब कराने का प्रयास किया जाएगा। खुद के मंत्री बनने को लेकर श्री कश्यप ने कहा कि भाजपा में निरंतर प्रक्रिया चलती रहती है यहां कुछ भी अचानक नहीं होता। इतना जरूर है कि उनको भी 25 मार्च से पहले नहीं पता था कि भाजपा नेतृत्व और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनको मंत्रीमंडल में शामिल कराने जा रहे हैं। उनको इस बारे में शपथ से ठीक पहले ही जानकारी दी गई थी।
गाजियाबाद के हालात पर उन्होनें कहा कि यहां सांसद, विधायक, संगठन के बीच अच्छा तारतम्य है। सभी लोग मिल बैठ कर हर काम पर चर्चा करते हैं। यह आगे भी चलता रहेगा। अभी पार्टी विधानसभा परिषद के चुनाव में व्यस्त है। उसके बाद स्थानीय निकाय के चुनाव की तैयारी शुरू हो जाएगी। भाजपा पूरे वर्ष ही चुनाव मोड में रहती है। भाजपा के सभी कार्यकर्ता तन-मन-धन और स्वेच्छा से पार्टी की सेवा करते हैं। यही वजह है पार्टी यूपी में पूर्ण बहुमत के साथ आई है। नरेन्द्र कश्यप ने कहा कि दिव्यांगजन सशक्त्किरण केवल एक मंत्रालय नहीं है बल्कि मानव सेवा का जरिया भी है। जरूरतमंद लोगों की सेवा करने का अवसर पार्टी ने दिया है।
दिव्यांगों को कृतिम अंग, अच्छी चिकित्सा, शिक्षा और रोजगार दिलाना उनका प्रमुख लक्ष्य है। नरेन्द्र कश्यप ने यह भी कहा कि गाजियाबाद के प्रत्येक नागरिक के लिए उनके घर के दरवाजे हमेशा खुले हुए हैं, कोई भी कभी भी आ सकता है। उन्होनें गाजियाबाद के लोगों से भी अपील की, कि शहर को साफ रखने में अपना पूरा योगदान दें। प्रदूषण मुक्त गाजियाबाद बनाने के लिए हर शहरवासी का सहयोग आवश्यक है।