नोएडा (युग करवट)। थाना सेक्टर-39 क्षेत्र के सेक्टर-38ए स्थित वाटर पार्क में चार दोस्तों संग आए दिल्ली निवासी धनंजय माहेश्वरी की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के कारणों को जानने के लिए पुलिस ने शव का आज पोस्टमार्टम करवाया, लेकिन मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि डॉक्टरो ने मृतक का बिसरा पिजर्व कर लिया है। उन्होंने बताया कि मृतक के पिता संजय माहेश्वरी ने वाटर पार्क के लोगों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए पुलिस से शिकायत की है। उन्होंने बताया कि उनकी शिकायत के आधार पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि दोषी पाए जाने पर वाटर पार्क के जिम्मेदार लोगो के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। अपर पुलिस उपायुक्त मनीष कुमार मिश्र ने बताया कि दिल्ली के आदर्शनगर निवासी 25 वर्षीय धनंजय माहेश्वरी रविवार सुबह अपने दोस्तों अंशुल गुप्ता, राघव गुप्ता, सागर गुप्ता और पीयूष लांबा के साथ जीआईपी माल स्थित एंटरटेनमेंट सिटी वाटर पार्क में आए थे। वह घर से 11 बजे के करीब निकले और साढ़े 12 बजे नोएडा पहुंचे। वाटर पार्क में धनंजय और उसके चार अन्य साथी कॉस्टयूम लेने के बाद सीधे स्लाइडिंग पर पहुंचे। पांचों ने एक-एक करके स्लाइडिंग शुरू कर दी। जैसे ही धनंजय स्लाइडिंग करके नीचे आया उसे सांस लेने में परेशानी होने लगी। वाटर पार्क में तैनात सुरक्षाकर्मियों के द्वारा इसकी सूचना अपने उच्च अधिकारियों को दी गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए जीआईपी माल प्रबंधन ने एंबुलेंस से धनंजय माहेश्वरी को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया। चिकित्सकों ने युवक को देखते ही मृत घोषित कर दिया।