युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तहत आने वाले वनवासी कल्याण आश्रम की ओर से आदिवासी क्षेत्रों में कई योजनाएं चलाई जा रही है। इन योजनाओं की सहायता के लिए वनवासी कल्याण आश्रम की गाजियाबाद शाखा की ओर से सोमवार को सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया।
अंतर्राष्ट्रीय भजन गायक अजय याज्ञनिक द्वारा सुंदरकांड पाठ का गायन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने श्री राम दरबार चित्र के समक्ष दीप प्रज्वल्लन कर किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ अरुण अरोड़ा ने की। मुख्य वक्ता केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा कि वनवासी कल्याण आश्रम 1952 से पूरे देश में रहने वाले 11 करोड़ वनवासी बंधुओं के सर्वांगीण विकास के लिए सेवारत है। उन्होंने इस बात पर हर्ष व्यक्त किया कि इसके कार्यकर्ता शिक्षा के प्रकाश से अवलोकित होकर वनवासी बंधु समाज की मुख्य धारा के साथ जुडक़र राष्ट्र की सुरक्षा, एकता व अखंडता के लिए काम करते हैं। सीमांत क्षेत्रों में रहने वाले वनवासी बंधु राष्ट्र के प्रहरी के रूप में काम करते हैं। कल्याण आश्रम का काम राष्ट्रीय महत्व का कार्य है। इसलिए समाज के प्रत्येक नागरिक को ऐसे सेवा कार्य में अपनी सहभागिता करनी चाहिए।
इस अवसर पर सेवा संस्थान की पश्चिम उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड की मंत्री श्रीमती अनुराधा भाटिया ने कहा कि समाज में बहुत सारी संस्थाएं काम करती हैं। सभी संस्थाएं समाज के लिए अपना योगदान देती है, लेकिन कल्याण आश्रम का कार्य सेवाएं व्यक्ति निर्माण व राष्ट्र भक्ति के रूप में अनुकरणीय व प्रशंसनीय है। कार्यक्रम के अंत में गाजियाबाद शाखा के अध्यक्ष अरुण सिंघल ने सभी अतिथियों और गणमान्य नागरिकों का धन्यवाद किया। संचालन स्थानीय इकाई के महामंत्री मनीष अग्रवाल एवं प्रांतीय सदस्य विवेक सिंघल ने किया। इस अवसर पर उत्तर भारत क्षेत्र के क्षेत्रीय संगठन मंत्री डालचंद, राजकुमार सिंघल, अमरीश कुमार ,आयुष अग्रवाल, प्रणिती, सौरभ सिंघल, पंकज अग्रवाल, सचिन गोयल, दिनेश गर्ग, गुलशन बजाज, राहुल यादव, विनय सिंघल, अमित कुमार आदि उपस्थित थे।